पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Sagar Is Second In The Division In Cleanliness Feedback, Now The City's Ranking Will Increase With Positive Response From People

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

स्वच्छता सर्वेक्षण 2021:स्वच्छता फीडबैक में संभाग में सागर दूसरे नंबर पर, अब लोगों के सकारात्मक जवाब से बढ़ेगी शहर की रैंकिंग

सागर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सागर के प्रति हम जिम्मेदार बनें क्योंकि 6000 अंकों में से 1800 अंक केवल अच्छे जवाब पर मिलेंगे

स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 के फीडबैक मामले में हम अभी भी 1 से 10 लाख आबादी वाले कई शहरों से पीछे हैं। शहर को अच्छी रैंक दिलाने के लिए अभी भी 31 मार्च का समय और है। दरअसल, 1 जनवरी से शुरू हुई सिटीजन फीडबैक के सेक्शन को लेकर अब पूरी तैयारियां कराई जा रही हैं। कुल 6000 अंकों की परीक्षा में से सिटीजन इंगेजमेंट में ही 1800 अंक मिलने हैं। इसमें केवल फीडबैक ही नहीं, बल्कि अलग-अलग एक्टिविटी हैं। फिलहाल पोर्टल लिंक, एप और मिस्ड कॉल को लेकर शहर की स्वच्छता को लेकर फीडबैक लिया जा रहा है।

संभाग में सागर दूसरे नंबर पर हैं, जो अपने जैसे आबादी वाले शहर देवास, गुना, कटनी से पीछे है। जबकि छतरपुर शहर फीडबैक मामले में पूरे संभाग में नंबर वन पर है। मंत्रालय द्वारा 1 फरवरी तक सिटीजन फीडबैक पोर्टल लिंक, एप और मिस्ड कॉल के के आधार पर अलर्ट जारी किया गया है। मिनिस्ट्री द्वारा डेली अपडेट के आंकड़ों के अनुसार सागर से तीनों फीडबैक में अभी तक 39836 फीडबैक ही मिले हैं।

इन सवालों के ऐसे जवाब देकर बढ़ाएं रैंकिंग
स्वच्छता सर्वेक्षण की प्रतियोगिता में फीडबैक को लेकर आपसे 7 सवाल पूछे जाएंगे। जिनके सही जवाब ही अपने शहर की रैंकिंग में सुधार कर सकते हैं। इन सवालों के सही जवाब 600 अंक दिला सकते हैं, इनमें से 2 सवाल 50 अंक और बाकी 100 अंकों के हैं।

1. क्या आप जानते है कि आपका शहर स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 में भाग ले रहा है? क्या आप स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 में अपने शहर की रैंक जानते हैं? जवाब - हां, इस बार शहर को 43वीं रैंक मिली थीं। (कोई भी जवाब न देने पर 100 अंक कटेंगे।)

2. आप अपने शहर को अपने पडोस के स्वच्छता स्तर पर कितने अंक देना चाहते हैं? जवाब : जवाब में 0 से 100 अंक देना है।

3. आप अपने शहर को अपने वाणिज्यक/ सार्वजनिक क्षेत्रों की स्वच्छता के स्तर पर कितने अंक देना चाहेंगे? जवाब : 0 से 100 अंक देना है।

4. क्या आपको हमेशा सूखे और गीले कचरे को अलग देने के लिए कहा जाता है? जवाब : कचरा सूखा-गीला अलग-अलग देते हैं तो 100 अंक मिलेंगे। कभी-कभी देते हैं तो 50 अंक और नहीं तो 0 मिलेगा।

5. आप अपने शहर के सार्वजनिक शौचालय या मूत्रालय के स्वच्छता स्तर पर अपने शहर को कितने अंक देना चाहेंगे? जवाब : 0 से 100 अंक देना है।

6. क्या आप जानते हैं कि आप गूगल पर निकटतम सार्वजनिक शौचालय खोज सकते हैं? जवाब : हां पर 50 अंक मिलेंगे, नहीं तो 0 मिलेगा।

7. क्या आप जानते हैं कि आप स्वच्छता के आसपास अपनी शिकायतों को बढ़ाने के लिए स्वच्छता एप (MoUHA) का उपयोग कर सकते हैं? जवाब : हां तो 50 अंक मिलेंगे, नहीं तो 0 मिलेगा।

आईपी एड्रेस एक और फीडबैक अनेक
कई शहरों ने एक-एक आईपी एड्रेस से कई बार फीडबैक दिए हैं। मिनिस्ट्री द्वारा इसे भी ट्रेस कर लिया गया है। इन सभी फीडबैक को खारिज कर एक आईपी एड्रेस से एक ही फीडबैक मान्य होगा। इस तरह की संख्या मान्य नहीं होगी।

सर्वेक्षण के 3 चरण
पहला चरण :
सर्विस लेवल प्रोग्रेस (एसएलपी)- यह 2400 अंक का होगा।
दूसरा चरण : सर्टिफिकेशन– यह 1800 अंक का होगा।
तीसरा चरण : सिटीजन वाइस– यह 1800 अंक को होगा। हालांकि कोरोना के चलते पहले पब्लिक फीडबैक लेने के बजाए इस बार सीधे दिल्ली से लोगों से बात कराई जाने की प्लान था, लेकिन अब शहर में ही फीडबैक लेने के लिए दिल्ली से टीम आएगी। इसके अलावा वोट फॉर सिटी एप, 1969 हेल्पलाइन, एसएस 2021 पोर्टल, स्वच्छता एप से मिलने वाली शिकायतों और उनके निराकरण की स्थिति के आधार पर अंक मिलेंगे। डायरेक्ट ऑब्जर्वेशन किया जाएगा।

वर्ष रैंकिंग
2017 23
2018 46
2019 48
2020 43

निगम के संसाधन
शहर में रेसीडेंशियल एरिया में होती सफाई - दिन में 1 बार
कमर्शियल एरिया में होती है सफाई - दिन भर में 2 बार
सार्वजनिक-सामुदायिक शौचालय की स्थिति - 45
शहर में स्थित यूरिनल -25
निगम, रैमकी कंपनी के कुल सफाई कर्मियों की संख्या - 762
मशीनरी:48 वार्डों में कचरा गाड़ियां-53, डंपर-6, काम्पैक्टर-2

इन पर ज्यादा जोर

  • डोर टू डोर कलेक्शन और कचरे का पृथकीकरण गंदे पानी की निकासी
  • गंदी बस्ती का उन्मूलन
  • ड्रेनेज सिस्टम
  • शौचालय, स्वच्छता उपयोगिता

फीडबैक की संख्या हो रही है अपडेट
फीडबैक की संख्या लगातार अपडेट हो रही है। उन खामियों पर भी ध्यान दिया जा रहा है, जो पिछले साल सामने आई थीं और उनकी वजह से रैंकिंग प्रभावित हुई थी।
- आरपी अहिरवार, निगम आयुक्त

रैंकिंग के आधार पर हो अधिकारियों की ग्रेडिंग
सफाई को लेकर अधिकारियों पर भी कड़ी सख्ती होना चाहिए, जो अधिकारी जिस शहर में है। उसकी रैंकिंग के अधार पर ग्रेडिंग तय हो।
-डीपी दुबे, अंतरराष्ट्रीय सलाहकार, आईएलओ, यूनिटेड नेशन

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज ग्रह गोचर और परिस्थितियां आपके लिए लाभ का मार्ग खोल रही हैं। सिर्फ अत्यधिक मेहनत और एकाग्रता की जरूरत है। आप अपनी योग्यता और काबिलियत के बल पर घर और समाज में संभावित स्थान प्राप्त करेंगे। ...

    और पढ़ें