पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • The Delay Of The Tata Company Working On The Water Project, Had To Be Repaired In 48 Hours, Even After A Year, The Streets Of The Streets Were Dug Up

सड़कों का सत्यानाश:वाटर प्रोजेक्ट का काम कर रही टाटा कंपनी की लेटलतीफी, 48 घंटे में करना थी मरम्मत, एक साल बाद भी खुदी पड़ीं गलियों की सड़कें

सागर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गुरुगोविंद सिंह वार्ड: बच्चों को हादसे का डर - Dainik Bhaskar
गुरुगोविंद सिंह वार्ड: बच्चों को हादसे का डर
  • 400 करोड़ के प्रोजेक्ट की दुर्दशा- पहले सीवरेज के लिए सड़क खोदी, बन गई तो उसी सड़क को वाटर लाइन के लिए खोदकर छोड़ दिया

24 घंटे 7 दिन पानी को लेकर चल रहे वाटर प्रोजेक्ट की लेटलतीफी ने लोगों का जीना दूभर कर दिया है। 400 करोड़ के इस प्रोजेक्ट में टाटा कंसल्टेंसी को 495 किमी पाइप लाइन बिछाना थी। अभी तक 160 किमी की लाइन ही बिछा सकी है। 52 किमी की सड़कें गलियों में खुदी पड़ी हैं।

आलम यह है कि जो काम 48 घंटे (अस्थाई रि-रेस्टोरेशन) का होना था। वह कई कॉलोनियों में साल भर बाद भी अधूरा है। लोग दुर्घटना का भी शिकार हो रहे हैं। फिर भी जनप्रतिनिधि से लेकर अफसर टाटा से काम कराने में नाकाम है। मॉनीटरिंग नहीं होने से कामों में लेटलतीफी हो रही है। पानी सप्लाई का काम कर रही काम टाटा कंसल्टेंसी की मनमानी के सामने अफसर भी बौने साबित हो रहे हैं। अधिकारियों के निर्देश के बाद भी खुदी हुई सड़कों को बनाने में कंपनी की कोई दिलचस्पी है ही नहीं।

पिछले दिनों नगर निगम के अधिकारियों ने निर्देश दिए थे कि पहले खुदी हुई सड़कों का स्थाई रि-रेस्टोरेशन किया जाए, उसके बाद ही आगे का काम हो। फिर भी शहर के कई वार्डों में एक साल से सड़कें खुदी पड़ी हुई हैं। इतना ही नहीं सीवरेज का काम कर रही लक्ष्मी सिविल के साथ तालमेल नहीं होने के कारण पहले सीवरेज फिर पानी लाइन बिछाने के लिए सड़कों को दो बार खोदा जा रहा है।

लॉकडाउन के पहले खोदी थी सड़क
शास्त्री वार्ड में शुक्ला गली में लॉकडाउन के पहले काम शुरू किया गया था। वहां लाइन बिछाने के बाद सड़क को ऐसे ही छोड़ दिया। अब बच्चे भी बाहर खेल नहीं पाते, मिट्टी की वजह से वाहन भी फिसलते हैं।
- शिवम केशरवानी, शास्त्री वार्ड, सागर

शिकायत की तो गिट्टी डाल चले गए

रविशंकर वार्ड में बीएस जैन बिल्डिंग के पीछे की सड़क फरवरी महीने से ऐसी ही पड़ी हुई है। सीएम हेल्पलाइन पर शिकायत की इसके बाद कुछ लोग आए और गिट्टी डाल गए। सड़क अभी भी वैसी ही पड़ी हुई है।
- संदीप अग्निहोत्री, रविशंकर वार्ड सागर

नल और टेलीफोन कनेक्शन तोड़े

तीन महीने से सड़क ऐसी ही पड़ी हुई है। कंपनी ने यहां ऐसा काम किया है कि कई घरों की टेलीफोन और नल कनेक्शन भी तोड़ दिए। दो दिन पहले काम लगाया और फिर सामान उठा चले गए हैं। बच्चे भी बाहर खेल नहीं पा रहे।
- राम गोपाल नामदेव, बालक कॉम्प्लेक्स

शिकायत कर रहे लेकिन कार्रवाई नहीं

सड़क को खोदे हुए काफी समय हो गया है, लेकिन उसकी मरम्मत नहीं की गई। जिस जगह लाइन बिछाई गई थी, वहां कंपनी मिट्टी डालकर चले गई है। बारिश की वजह से कीचड़ हो रहा है। शिकायत कर रहे हैं, लेकिन सुनवाई नहीं हो रही।
- संतोष केशरवानी, जवाहरगंज

लोगों को यह हो रही परेशानी

  • खुदी हुई सड़कों की वजह से लोग के साथ हो रहीं दुर्घटनाएं।
  • गैर प्रशिक्षित कर्मचारियों से कराया जा रहा काम, जो कई बार पानी सप्लाई लाइन को कर चुके क्षतिग्रस्त।
  • सड़कों को खोदने, लाइन बिछाने के बाद तुरंत नहीं किया जा रहा सड़क रि-रेस्टोरेशन

सड़क नहीं बनाई तो होगी कार्रवाई
एजेंसी को जल्द से जल्द काम पूरा करने के लिए कहा गया है। जहां सड़कें खोदी जा रही है, वहां लाइन बिछाने के बाद निर्माण नहीं किया गया तो कंपनियों पर कार्रवाई की जाएगी।
आरपी अहिरवार, निगमायुक्त, सागर

टाटा की खुदी सड़कों से त्रस्त हैं तो फोटो भेजें-
टाटा कंपनी ने सड़कें खोदकर फिर से निर्माण नहीं किया है तो हमें इसकी जानकारी दें। लोग ऐसे फोटो हमें मोबाइल नंबर 9926459376 पर वाट्सएप करें। अपना नाम और स्थान जरूर लिखें।

खबरें और भी हैं...