• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • The Lure Of Earning Up To 15 Times Profit By Investing Money In The Stock Market, Now Switched Off The Phone

सागर में पेट्रोप पंप संचालक से 27 लाख की ठगी:शेयर मार्केट में पैसा लगाकर 15 गुना तक लाभ कमाने का दिया लालच, अब फोन बंद कर लिया

सागर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कोतवाली पुलिस थाना। - Dainik Bhaskar
कोतवाली पुलिस थाना।

सागर में शेयर मार्केट में 15 गुना तक लाभ दिलाने का लालच देकर पेट्रोल पंप संचालक से 27 लाख रुपए की ठगी की गई। पंप संचालक ने मामले की शिकायत कोतवाली थाने में की। शिकायत पर जांच करते हुए कोतवाली थाना पुलिस ने ठगी करने वाले के खिलाफ धोखाधड़ी की धाराओं में प्रकरण दर्ज किया है।

पेट्रोल पंप संचालक हेमंत लारिया निवासी रजाखेड़ी मकरोनिया ने पुलिस को बताया कि मैं पेट्रोल पंप और गैस एजेंसी का संचालन करता हूं। मैं और मेरे दोस्त राजेशपुरी गोस्वामी निवासी शास्त्री नगर तिलवारा जबलपुर आपस में शेयर मार्केट के बिजनेस में पार्टनर हैं। हम लोगों के पास करीब 20-25 दिन पहले आलोक शर्मा नाम के व्यक्ति का फोन आया। उसने कहा मैं शेयर मार्केट में काम करता हूं। मैंने आपकी प्रोफाइल देखी है, जो बहुत अच्छी है।

आप शेयर मार्केट में निवेश करके जमा राशि का 10 से 15 गुना तक लाभ कमा सकते है। उसने डीमेट अकाउंट खोलने के लिए पेन कार्ड, आधार कार्ड, बैक अकाउंट पास बुक, एक साइन किया हुआ चेक और हस्ताक्षर के फोटोग्राफ मांगे, जो फरियादी ने मोबाइल नंबर पर वाटसऐप कर दिए। इसके बाद ठग से बातचीत होती रही। कुछ दिन बाद आलोक शर्मा का फोन आया और बोला कि मनी कंट्रोल एप पर आपका अकाउंट खुल गया है। आप पैसों का इंतजाम करो। जिससे आप अधिक से अधिक मुनाफा कमा सको। आलोक शर्मा ने बोला कि पैसों का इंतजाम कैश में करना।
रेलवे स्टेशन के पास नकद रुपए दिए थे
उसकी बातों के झांसे में आकर मैंने और राजेश पुरी ने मिलकर 27 लाख रुपए जुटाए। 21 अप्रैल को आलोक शर्मा नाम का व्यक्ति सागर आया। रेलवे स्टेशन प्लेटफार्म नं. 2 के बाहर मिला। जहां हमसे 27 लाख रुपए लिए। पैसे लेकर वह चला गया। दूसरे दिन आलोक ने भेजी लिंक पर चेक किया तो मेरे जीमेट अकाउंट में 7268530 रुपए दिखने लगे। इसके बाद आलोक बोला कि अब हम आपका शेयर एक करोड़ रुपए बनाएंगे। कुछ दिन बाद मैंने लिंक पर देखा तो मेरे खाते में सिर्फ 3 लाख रुपए दिख रहे थे। मैंने आलोक से बात की तो उसने कहा कि आपने अपने शेयर बेच दिए हैं।

जिससे पूरा पैसा डूब गया और जो तीन लाख रुपए बचे हैं वो भी नहीं मिल पाएंगे और फिर फोन रख दिया। फिर मैंने कई बार फोन किया। लेकिन उसने रिसीव नहीं किया। बाद में फोन बंद कर लिया। धोखाधड़ी होने का संदेह होते ही थाने में शिकायत की। शिकायत पर पुलिस ने आलोक शर्मा के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर जांच में लिया है।