• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • The Mastermind Was Getting The Color Of The Car Used In The Robbery Changed In Sagar, Arrested With The Help Of Brother in law

महाराष्ट्र में 2 करोड़ बैंक डकैती के सागर से जुड़े:डकैती में उपयोग कार का सागर में कलर बदलवा रहा था मास्टरमाइंड; जीजा की मदद से गिरफ्तार

सागर24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने जब्त की कार। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने जब्त की कार।

महाराष्ट्र के पुणे में बैंक में 2 करोड़ की डकैती के तार सागर से जुड़ गए। डकैती में उपयोग की गई कार का कलर बदलने के लिए अपनी जीजा के यहां छोड़ गया था। पेंटर को 20 हजार रुपए देकर कार का कलर व्हाइट से ग्रे करा रहा था। पुलिस ने छापा मारकर कार जब्त कर लिया है।

कार पुणे पुलिस के सुपुर्द कर दी गई है। वहीं डकैती के मास्टरमाइंड आरोपी को जीजा की मदद से पुणे से गिरफ्तारी कर ली गई है। बैंक डकैती में शामिल कुछ अन्य आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

कैंट थाना प्रभारी गौरव तिवारी ने बताया कि 21 अक्टूबर को पुणे के शुरूर थाना क्षेत्र के पिंपरखेड़ा स्थित महाराष्ट्र ग्रामीण बैंक में हथियारों से लैस नकाबपोश 5 बदमाशों ने डकैती डाली थी। लॉकर में रखे सोना-चांदी के जेवर और नगदी सहित करीब 2 करोड़ रुपए लेकर फरार हुए थे। वारदात में आरोपियों ने सियाज कार का उपयोग किया था। जांच में पता चला कि डकैती के बाद वारदात में उपयोग हुई कार महाराष्ट्र से मध्यप्रदेश की ओर गई है।

पुणे पुलिस ने इस मामले में कुछ आरोपियों को गिरफ्तार किया था। पूछताछ में पता चला कि डकैती में शामिल मुख्य आरोपी प्रवीण सीताराम मुहार कार का कलर बदलने ले गया है। उसके जीजा सागर के सदर इलाके में रहते हैं।

20 हजार में बदलवा रहा था कार का कलर
कैंट पुलिस ने डकैती में उपयोग हुई कार को कब्जे में ले लिया है। आरोपी ने अपने जीजा के यहां कार रख दी थी। यहीं पेंटर को बुलाकर कलर बदलवाया जा रहा था। आरोपी ने पेंटर को यह कहकर गुमराह किया था कि पहले कार ग्रे कलर की थी, लेकिन उसे भाई ने व्हाइट कलर करवा दिया। अब वह दोबारा कार का कलर ग्रे कराना चाहता है।

उसने इस काम के लिए 20 हजार रुपए में सौदा तय किया था। पुलिस ने पेंटर से यह राशि जब्त कर ली है। मामले में पुणे के शुरूर थाने के उप निरीक्षक गणेश जगदाले टीम के साथ सागर पहुंचे। जहां पुलिस ने उक्त कार उनके सुपुर्द कर दी है।

खबरें और भी हैं...