बिजली आपूर्ति:ट्रांसफाॅर्मर्स से ऑयल हो रहा चाेरी ऑक्सीजन प्लांट की बिजली ठप

सागर2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कृष्णा बायो फ्यूल, गौरी गैस व नयाखेड़ा बस्ती के ट्रांसफाॅर्मर से ऑयल चाेरी

औद्याेगिक क्षेत्र सिदगुंवा-चनाटाेरिया की दाे ईकाईयों काे बिजली आपूर्ति करने वाले ट्रांसफाॅर्मर्स से ऑयल चाेरी होे गया है। जिससे ट्रांसफाॅर्मर जल गए और बिजली सप्लाई ठप हा़े गई। दाे दिन पहले सिदगुवां-चनाटाेरिया की यूनिटाें के अलावा नयाखेड़ा गांव की बस्ती की बिजली गुल हा़े गई।

बिजली विभाग में शिकायत के बाद भी सुधार कार्य शुरू नहीं हुआ। बहेरिया पुलिस ऑयल चाेराें का पता लगा रही है। जिले में पहले भी ट्रांसफाॅर्मराें से ऑयल चाेरी के मामले सामने आते रहे हैं। इस मामले में बहेरिया पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है।

जानकारी के अनुसार सिदगुवां स्थित कृष्णा बायो फ्यूल, गौरी गैस ऑक्सीजन प्लांट और नयाखेड़ा गांव की बस्ती के ट्रांसफाॅर्मर का ऑयल शनिवार-रविवार की रात चाेरी हुआ था। कृष्णा बायाे फ्यूल ईकाई के संचालक अर्पित भट्ट ने बताया कि चालू बिजली लाइन के दाैरान ग्राइंडर से ट्रांसफाॅर्मर में कट करके ऑयल चुराया गया है। जिससे ट्रांसफाॅर्मर जल गया।

इसी तरह गाैरी गैस व नयाखेड़ा के अलावा अन्य ट्रांसफाॅर्मर्स से ऑयल चाेरी हुआ है। गाैरी गैस से पिछले साल काेविड के दाैरान ऑक्सीजन की सप्लाई की गई थी। भट्ट ने बताया कि मैंने बिजली विभाग में इसकी शिकायत की है, लेकिन अभी तक ट्रांसफाॅर्मर में सुधार नहीं हुआ है।

बिना आईडी ट्रांसफाॅर्मर सुधारने वालाें पर शक

बहेरिया थाना प्रभारी दिव्य प्रकाश त्रिपाठी ने बताया कि ओलावृष्टि के दाैरान बिजली फाल्ट हुई थी। इसके बाद ट्रांसफार्मर में सुधार कार्य के लिए कुछ लाेग देखे गए थे। उनके पास आईडी कार्ड नहीं थे। मैंने बिजली विभाग से इस संबंध में जानकारी मांगी है। ट्रांसफाॅर्मर से ऑयल चाेरी कर बेच दिया जाता है। इसका कहां-क्या उपयाेग हा़े रहा है। यह अभी स्पष्ट नहीं है। ऑयल चाेरी की शिकायत पर एफआईआर दर्ज की है।

खबरें और भी हैं...