पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • The Water Level Of The Ghat Is The Lowest In 6 Years, The Water Level Of The Dam Is Also 4 Cm From The Horrific Crisis In The Year 2016. Is Down

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पानी का राज खत्म:घाट पर 6 साल में सबसे कम जलस्तर, बांध का जल स्तर वर्ष 2016 में हुए भीषण संकट से भी 4 सेंमी. नीचे है

सागर5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

अभी गर्मी शुरू ही हुई है कि शहर को पानी की सप्लाई करने वाला राजघाट बांध का पानी डेड स्टोरेज के नजदीक पहुंच गया है। चिंता की बात यह है कि बांध का जल स्तर वर्ष 2016 में हुए भीषण संकट से भी 4 सेंमी. नीचे है। तब 5 अप्रैल को 509.63 मीटर था। अब 5 अप्रैल को जल स्तर 509.59 मीटर है। यही हालात रहे तो मई के पहले सप्ताह से ही शहर में जलसंकट गहराने लगेगा। दरअसल मौजूदा साल औसत से कम बारिश होने की वजह से बांध देरी से ओवर फ्लो हो पाया तो फसलों के सीजन के दौरान किसानों ने भी बांध से जमकर पानी चोरी किया।

ऐसे बुझ रही शहर की प्यास

  • 01 दिन छोड़कर शहर में दिया जा रहा पानी
  • 60 मिनट होती है शहर में पानी की सप्लाई
  • 20 लाख ली. से ज्यादा पानी लीकेज व टोंटियां न होने से व्यर्थ बह रहा है
  • 60 एमएलडी यानी 6 करोड़ लीटर पानी सप्लाई होता है रोज

6 साल में राजघाट बांध का जल स्तर

  • 5 अप्रैल 2021 509.59 मी.
  • 5 अप्रैल 2020 511.41 मी.
  • 5 अप्रैल 2019 509.68 मी.
  • 5 अप्रैल 2018 510.35 मी.
  • 5 अप्रैल 2017 510.31मी.
  • 5 अप्रैल 2016 509.63 मी.

पानी लिफ्ट कर की जाएगी व्यवस्था
बांध में पर्याप्त पानी है। शहर को गर्मियों तक वर्तमान की तरह पानी दिया जा सकता है। फिर भी जहां -जहां से पानी लिफ्ट किया जाना संभव है। वहां मोटर पम्प, केबल आदि डालकर पहले से पानी लिफ्ट करने की व्यवस्था की जाएगी। ताकि गर्मियों में कोई असुविधा न हो।
- आरपी अहिरवार, निगमायुक्त

इसलिए है चिंता की बात
बांध का जलस्तर 509 मीटर आते ही डेड स्टोरेज की स्थिति बन जाती है। यानी जितना पानी बचा है, उसे अब संभालकर खर्च करना होगा। वैसे अभी दो पंप चल रहे हैं। एक पंप बंद होने की नौबत पर पानी सप्लाई प्रभावित होगी। 507.30 बांध की डेडलाइन है। इसके बाद पानी को लिफ्ट करना पड़ता है। अधिकारियों का दावा है कि बांध में काफी पानी है। जल संकट के दौरान अगर पानी को लिफ्ट कराना पड़ा तो वह भी व्यवस्था कराई जाएगी।

भास्कर सुझाव; पानी की बर्बादी रोकने के लिए करें यह उपाय

  • लीकेजों की हर दिन हो मॉनिटरिंग।
  • तुरंत ही छोटे-बड़े लीकेजों की मरम्मत के लिए अमला हो तैयार।
  • शहर के लोग और जनप्रतिनिधि भी हो इसके लिए जागरूक। लीकेज सुधार के कामों को प्राथमिकता से ले अधिकारी।
  • लोग टोटियां लगाकर पानी की बर्बादी पर नजर रखें। व्यर्थ न बहाएं।
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने काम को नया रूप देने के लिए ज्यादा रचनात्मक तरीके अपनाएंगे। इस समय शारीरिक रूप से भी स्वयं को बिल्कुल तंदुरुस्त महसूस करेंगे। अपने प्रियजनों की मुश्किल समय में उनकी मदद करना आपको सुखकर...

    और पढ़ें