पीआईसीयू का मामला:बीएमसी में तीन साल की बालिका की मौत, परिजन ने किया हंगामा

सागरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में मंगलवार को 3 वर्षीय बालिका की पीआईसीयू में मौत के बाद परिजनों ने हंगामा कर दिया। परिजनों का आरोप था कि डॉक्टरों द्वारा बच्ची को गलत इंजेक्शन दिए जाने के कारण मौत हुई है। जबकि डॉक्टरों का कहना है कि बच्ची सीरियल निमोनिया की शिकार थी और घर वालों ने बीमार अवस्था में उसे चॉकलेट खिला दी। जिसके बाद फेफड़ों का निमोनिया बढ़ गया और उसे सांस लेने में दिक्कत होने लगी। हंगामे के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मामला शांत कराया और बच्ची के शव को परिजनों को सौंपा।

जानकारी के अनुसार सुभाष नगर वार्ड निवासी 3 वर्षीय बालिका अनामिका अहिरवार को सर्दी और बुखार की शिकायत को लेकर बीएमसी के शिशु रोग विभाग में भर्ती किया गया था। जहां तीन दिन तक चले इलाज के बाद मंगलवार दोपहर बालिका की मौत हो गई। परिजनों का कहना है कि बच्ची को कोई बड़ी बीमारी नहीं थी, जब डॉक्टर ने इंजेक्शन दिया तो उसके थोड़ी ही देर बाद बच्ची की मौत हो गई। पुलिस ने मामले में मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है।

खबरें और भी हैं...