• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Voting Will Be Done In Three Phases, Voting Will Have To Be Done By Ballot Paper For The Post Of Sarpanch And Panch

पंचायत चुनाव:तीन चरणों में होगा मतदान, सरपंच और पंच पद के लिए मतपत्र से करना होगी वोटिंग

सागर22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिला और जनपद पंचायत सदस्य के लिए ईवीएम से होगा मतदान

जिले में पंचायत चुनावों को लेकर तैयारियां तेजी से चल रही है। अधिकारियों की माने तो आने वाले दो माह में पंचायत चुनावों का बिगुल बज सकता है। चुनाव तीन चरणों में होगा। जिसमें सरपंच व पंच पद के लिए वोटिंग मतपत्र के जरिए व जिला पंचायत और जनपद पंचायत सदस्य के लिए वोटिंग ईव्हीएम के जरिए होगी। चुनावों के लिए अंतिम मतदाता सूची का प्रकाशन इन वर्ष तीन मार्च को किया जा चुका है।

इसके बाद भी कोई विशेष त्रुटि सामने आती है। तो आयोग से अनुमति लेकर उसमें सुधार किया जा सकता है। ऐसे मतदान केन्द्र जहां 750 से अधिक मतदाता हैं। वहां एक अतिरिक्त मतदानकर्मी की नियुक्ति मतदान दल में की जाएगी। इसके साथ ही सभी मतदान केन्द्रों का भौतिक सत्यापन किया जा रहा है और उनमें जो भी कमियां मिल रही हैं अधिकारी उन्हें तत्काल दूर कर रहे हैं।

अधिकारियों द्वारा जिले के संवेदनशील व अतिसंवेदनशील मतदान केन्द्रों को चिंहित कर आवश्यक सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम किए जा रहे हैं। जिला पंचायत, जनपद पंचायत सदस्य और सरपंच पद के लिए नामांकन फॉर्म ऑफलाइन के साथ-साथ ऑनलाइन भरने की भी व्यवस्था इस बार की गई है। भोपाल से निर्वाचन आयुक्त ने पंचायत निर्वाचन के लिए जरूरी सामग्री की खरीदी करने व जिला और ब्लॉक स्तर पर प्रशिक्षण की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं।

निर्वाचक नामावली के लिए दावे-आपत्तियां 30 तक
निर्वाचक नामावली का विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण के लिए एक नवम्बर को एकजाई प्रकाशन कर दावे आपत्तियां 30 नवम्बर तक दर्ज की जाएंगी। जिसमें 13 व 14 नवंबर और 20 व 21 नवम्बर को विशेष कैंप लगाए जाएंगे। निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी ने सभी सुरपवाइजर एवं बीएलओ को निर्देश दिए हैं कि निर्धारित तारीखों के अनुसार समयावधि में कार्यवाही करना सुनिश्चित करें।
उन्होंने कहा कि कैंप में सभी सुपरवाइजर अपने समस्त बीएलओ को अपने-अपने मतदान केन्द्रों पर उपस्थित रहकर मतदाताओं से दावे आपत्तियां प्रारूप (6, 7, 8 एवं 8क) में प्राप्त कर आवेदन भरकर कार्यालय में जमा कराएं। सभी सुपरवाइजर अपने कार्यक्षेत्र अंतर्गत मतदान केन्द्रों पर बीएलओ उपस्थिति एवं कार्य की समीक्षा कर कार्यक्रम अनुसार निर्धारित अवधि में समय-समय पर कार्यालय को अवगत कराएं।

खबरें और भी हैं...