• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • When The Police Reached The Pavilion, The Minor Bride Started Crying, Bidding The Financial Condition Of The Family Is Weak, That's Why They Are Getting Married

सागर में मंडप में रोने लगी नाबालिग दुल्हन:बोली- परिवार की आर्थिक स्थिति कमजोर, इसलिए करा रहे हैं विवाह; प्रशासन ने शादी रुकवाई

सागर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बाल विवाह रुकवाती टीम।  - Dainik Bhaskar
बाल विवाह रुकवाती टीम। 

सागर में बाल विवाह राेकने पहुंची टीम के सामने मंडप में एक नाबालिग दुल्हन रो पड़ी। दुल्हन ने कहा, मेरे परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है। इस कारण से माता-पिता मेरी शादी करा रहे हैं। नाबालिग दुल्हन को रोते देख टीम की महिला सदस्यों ने समझाया। इस बाद वह मान गई। मामले में बाल विवाह रुकवा कर टीम पंचनामा बनाकर लौट आई।

सागर जिले में विशेष किशोर पुलिस इकाई और चाइल्ड हेल्पलाइन की टीम ने मंगलवार को अलग-अलग स्थानों पर कार्रवाई करते हुए 5 बाल विवाह रुकवाए हैं। मुखबिर ने टीम को सूचना दी कि बांदरी थाना क्षेत्र के ग्राम मैहर में बाल विवाह हो रहा था। मामले की खबर मिलते ही टीम कार्रवाई के लिए थाना पुलिस के साथ ग्राम मैहर पहुंची। मौके पर पहुंची तो मंडप में शादी की रस्में चल रही थी। टीम ने परिवार वालों से दुल्हन की उम्र के संबंध में दस्तावेज मांगें।

दस्तावेजों के अनुसार दुल्हन की उम्र 15 वर्ष 4 महीने पाई गई। इस पर पुलिस ने बाल विवाह नहीं करने को लेकर परिवार वालों को समझाइश दी। तभी नाबालिग दुल्हन रोने लगी और पुलिस टीम से बोली कि आर्थिक स्थिति खराब होने की वजह से माता-पिता शादी कर रहे हैं।

विवाह सम्मेलन में हो रहा था तीन नाबालिग जोड़ों का विवाह
इसी बीच टीम को सूचना मिली कि बहरोल थाना क्षेत्र में 6 जोड़ों का विवाह सम्मेलन हो रहा है। इसमें तीन जोड़े नाबालिग हैं। सम्मेलन में हो रही शादियों के दूल्हा और दुल्हन की उम्र के दस्तावेज देखे। इनमें 3 जोड़ों की उम्र नाबालिग पाई गई। परिवारों को समझाइश दी गई। काफी समझाइश के बाद परिवार वाले माने और बाल विवाह रुकवाया गया।

ठीक इसी तरह राजा बिलहरा में पुलिस बल के साथ टीम ने पहुंचकर नाबालिगों का बाल विवाह रुकवाया। कार्रवाई टीम में विशेष किशोर पुलिस इकाई की ज्योति तिवारी, सतीश तिवारी, मुकेश यादव, धरमू पटेल, योगेश राठौर, सोनम रजक, बांदरी थाना, बहरोल थाना पुलिस स्टाफ आदि शामिल थे।

खबरें और भी हैं...