पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रामराजा खेलेंगे होली:ओरछा में रामराजा सरकार आज खेलेंगे होली, श्रद्धालुओं के प्रवेश पर रहेगा प्रतिबंध

ओरछाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 1 अप्रैल को सुबह 5 बजे होगी मंगला आरती

धार्मिक नगरी के श्रीरामराजा मंदिर में बुधवार रात 10 बजे होली उत्सव पूरी राजशाही परम्परा के साथ चांदी की पिचकारी से होली खेलेंगे। दूसरे दिन गुरूवार को सुबह 5 बजे मंदिर में श्रीरामराजा सरकार की मंगला आरती होगी, लेकिन कोरोना संक्रमण के मद्देनजर जिला प्रशासन एवं मंदिर प्रबंधन ने 31 मार्च व 1 अप्रैल को मंदिर में दर्शनार्थियों के प्रवेश पर पाबंदी लगाई है। पिछले 500 वर्ष के इतिहास में यह पहला मौका होगा कि श्रीरामराजा सरकार अपने भक्तों के साथ होली नहीं खेलेंगे।

परंपरा के अनुसार रामराजा सरकार होली खेलने के लिए चौक में विराजमान होंगे

पर्यटन नगरी में रंगों के इस महापर्व पर 28 मार्च की रात में नगर के प्रमुख मोहल्लों में व मंदिर परिसर के अंदर होलिका दहन किया गया। ऐतिहासिक नगरी की प्रचीन परंपरा के अनुसार सबसे पहले श्रीरामराजा सरकार के आंगन में विधि-विधान से पूजन के साथ होलिका दहन किया गया। इसके बाद नगर के नजाई, नदी मोहल्ला, शास्त्री नगर, हरिशंकरी मोहल्ला में जगह-जगह होलीका जलाई गई।

धार्मिक नगरी ओरछा में होली उत्सव का कार्यक्रम पूर्णिमा की रात से शुरू होकर रंग पंचमी तक निरंतर चलता रहेगा। बुधवार को होली तीज के अवसर पर रामराजा मंदिर ओरछा में पारम्परिक होली महोत्सव का आयोजन किया जाएगा। प्राचीन समय से चली आ रही परंपरा के अनुसार रामराजा सरकार होली खेलने गर्भगृह से निकलकर चौक में विराजमान होंगे।

मंदिर के प्रधान पुजारी एवं पुजारियों द्वारा सरकार के साथ होली खेली जाएगी

मंदिर के प्रधान पुजारी रमाकांत शरण महाराज व अन्य सहयोगी मंदिर के पुजारियों द्वारा श्रीरामराजा सरकार के साथ होली खेली जाएगी। कोरोना काल से पहले प्रति वर्ष भगवान से होली खेलने बड़ी संख्या में श्रद्धालु ओरछा पहुंचते थे। इस मौके पर बुंदेली फागों के साथ आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों की टोलियां भी मंदिर परिसर में भजन कीर्तन किया करती थीं। इस अद्भुत नजारे को देखने समूचे बुंदेलखंड सहित बड़ी संख्या में देशी-विदेशी सैलानी रामराजा मंदिर में पहुंचते थे, लेकिन इस बार ऐसा कुछ नहीं होगा।
फ्रांस से आए विदेशी सैलानी : कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए स्थानीय लोगों के साथ विदेशी पर्यटक भी शामिल हुए। फ्रांस से आए विदेशी सैलानियों ने ओरछा में हाेने वाली होली का नजारा देखा और होली उत्सव का भरपूर आनंद लिया।

साल में दो बारी हाेती है मंगला आरती, इस बार शामिल नहीं हो सकेंगे श्रृद्धालु

हर साल होली के दूसरे दिन चौथ के सुबह 5 बजे होने वाली श्रीरामराजा सरकार की मंगला आरती में 1 अप्रैल को लोग शामिल नहीं हो सकेंगे। इस मौके पर भी मंदिर में दर्शनार्थियों के प्रवेश पर प्रतिबंध रहेगा। साल में दो बार होने वाली मंगला आरती के दर्शन करने के लिए बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं मंदिर पहुंचते है।

मंदिर के प्रधान पुजारी रमाकांत शरण महाराज ने बताया कि सरकार की मंगला आरती में शामिल होने से विशेष फल की प्राप्ति होती है। जो भी प्राणी इस मंगला आरती में शामिल होता है उसे 501 गौदान का पूण्य फल प्राप्त होता है। श्रीराम जन्म के पावन अवसर चैत्र शुक्ल दशवीं व होली की चौथ जैसे प्रमुख अवसरों पर वर्ष में केवल दो बार ही मंगला आरती होती है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- सकारात्मक बने रहने के लिए कुछ धार्मिक और आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करना उचित रहेगा। घर के रखरखाव तथा साफ-सफाई संबंधी कार्यों में भी व्यस्तता रहेगी। किसी विशेष लक्ष्य को हासिल करने ...

    और पढ़ें