खाद्य की मारामारी:यूरिया खाद्य की किल्लत को लेकर किसानों ने लगाया जाम, अधिकारियों के आश्वासन के बाद माने किसान, खोला जाम

पृथ्वीपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

निवाड़ी-पृथ्वीपुर मार्ग पर खाद्य गोदाम के सामने यूरिया खाद्य की किल्लत के चलते किसानों ने सड़क पर डेढ़ घंटे जाम लगाए रखा। अधिकारियों के आश्वासन के बाद जाम खोला गया। रबी सीजन की फसल की बुआई करने के बाद अब किसानों को फसल में यूरिया खाद्य की आवश्यकता है। पिछले दिनों किसानों को डीएपी खाद्य की परेशानी का सामना करना पड़ा था। जिसके चलते कई बार किसानों ने चक्काजाम भी किया, लेकिन उसके बाद भी आज तक किसानों की खाद्य की समस्या का समाधान नहीं हो पाया है।

जबकि पिछले बार की तुलना में इस बार डेढ़ गुना ज्यादा खाद्य आया है। उसके बाद भी किसानों को खाद नहीं मिल पा रहा है। किसान परमानंद कुशवाहा, रामदयाल यादव, वीरन अहिरवार, नंदलाल कुशवाहा, मनोहर कुशवाहा, सीताराम प्रजापति सहित कई किसानों ने बताया कि वह यूरिया खाद्य के लिए पिछले 15 दिन से खाद्य वितरक सोसायटियों के चक्कर लगाने को मजबूर हैं। उन्हें यूरिया खाद्य नहीं मिल पा रहा है। जिससे उनकी फसल बढ़ नहीं रही है। मंगलवार को सुबह 11.30 बजे तक किसानों को खाद नहीं मिला तो किसानों ने निवाड़ी पृथ्वीपुर मार्ग पर खाद गोदाम के सामने जाम लगा दिया।

जाम की जानकारी लगते ही नायब तहसीलदार राजेश भिण्डे, नायब तहसीलदार सुधीर शुक्ला और एएसआई पीएन भट्ट पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। जहां किसानों से चर्चा की। जिस पर किसानों का कहना था कि जो खाद गोदाम पर रखा हुआ है। उसका वितरण कराया जाए। किसानों को बताया गया कि उक्त खाद नैगुवां से जब्त हुआ था। वह यहां सुपुर्दगी में रखा है। न्यायालय से मामले में कोई निर्णय आएगा तभी इसका वितरण कराया जाएगा। किसानों को निवाड़ी से यूरिया खाद दिलाने की बात पर किसानों ने जाम खोला।

खबरें और भी हैं...