पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

स्पर्धा:मजदूर के बेटे ने जीता गोल्ड और सिल्वर मैडल

पृथ्वीपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 8वीं नेशनल चैम्पियन शिप सलालम प्रतियोगिता का आयोजन, 14 राज्यों की टीमों के खिलाड़ी हुए शामिल

छोटे से गांव सिमराखास के मजदूर के बेटे ने महेश्वर में होने वाली 8वीं नेशनल चैम्पियन शिप सलालम प्रतियोगिता में एक गोल्ड और दो सिल्वर मैडल जीतकर अपने गांव का नाम रोशन किया है। अमित ने तीनों राउंड में अपनी बढ़त बनाई है।

सिमरा गांव के रहने वाले मदनमोहन विश्वकर्मा उर्फ बबलू के बेटे अमित का चयन मप्र की टीम की ओर से नेशनल सलालम चैम्पियन प्रतियोगिता में हुआ। जिसमें 14 राज्यों की टीमों के खिलाड़ियों ने भाग लिया। वाटर स्पोर्ट एकाडमी की ओर से अपने खेल का प्रदर्शन करते हुए 2021 जनवरी में आयोजित सलालम खेल प्रतियोगिता में अमित ने पहले राउंड में गोल्ड मेडल जीता। फिर इसके बाद दूसरे और तीसरे राउंड में दो सिल्वर मैडल जीतकर प्रदेश के साथ-साथ गांव का नाम राेशन कर दिया। अमित के पिता मदनमोहन विश्वकर्मा गांव में ही मजदूरी करते है। अमित भोपाल में रहकर 10वीं की पढ़ाई कर रहा है।

वर्ष 2016 में अमित ने की शुरूआत
वर्ष 2016 से भोपाल में रहकर अमित ने वाटर स्पोर्ट एकाडमी भोपाल में सलालम का खेल शुरू किया था। उसके बाद प्रतिवर्ष महेश्वर में होने वाली नेशनल चैम्पियन प्रतियोगिता में भाग लिया। वर्ष 2018 में दो गोल्ड एक सिल्वर एक ब्राउन मैडल जीता था। फिर इसके बाद वर्ष 2019 में एक सिलवर मैडल जीतकर अपनी पहचान बनाई थी। इसके बाद फिर से वर्ष 2021 में गोल्ड और सिल्वर मैडल जीता है।

गांव से निकलकर देश भर में बनाई पहचान
अमित को शुरू से ही सलालम खेल का शौक हुआ करता था। भाेपाल पहुंचकर वाटर स्पोर्ट एकाडमी से खेल की शुरूआत की थी। इसके बाद धीरे-धीरे प्रतियोगिता शामिल होकर नेशनल प्रतियोगिता में भी अपनी जीत दर्ज करा चुके हैं। गांव के नदी तालाब में तैरकर अपने आपको इसके काबिल बनाया था।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें