• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Prithvipur
  • The Nephew Of The Former Minister Was Building A Shopping Complex In 700 Sqm With The Permission Of 125 Sqm, The Administration Broke

अतिक्रमण पर कार्रवाई:125 वर्गमीटर की अनुमति लेकर 700 वर्गमीटर में शॉपिंग कॉम्प्लेक्स बना रहे थे पूर्व मंत्री के भतीजे, प्रशासन ने तोड़ा

पृथ्वीपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सुबह 5 बजे मशीनें लेकर पहुंचा निवाड़ी का प्रशासन, करोड़ाें की जमीन को कराया अतिक्रमण से मुक्त

निवाड़ी जिले में लगातार अतिक्रमण के खिलाफ प्रशासन का एक्शन जारी है। सोमवार को प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई करते हुए अलसुबह 5 बजे से कांग्रेस के पूर्व मंत्री स्व. बृजेंद्र सिंह राठौर के भतीजे विश्वेंद्र प्रताप सिंह का शॉपिंग कॉम्प्लेक्स जमींदोज कर दिया। उपचुनाव के बाद प्रशासन की अतिक्रमण के खिलाफ यह दूसरी बड़ी कार्रवाई है। जिसमें प्रशासन ने करीब 600 वर्ग मीटर जमीन जिसकी कीमत करीब 4 करोड़ हैं उसे मुक्त कराया है।

नगरीय प्रशासन ने सोमवार को राधा सागर तालाब सर्किट हाउस के पास से लगी सरकारी जमीन पर किए गए अतिक्रमण पर बुलडोजर चलाया। इसके लिए बाकायदा मौके पर भारी पुलिस बल तैनात रहा और अतिक्रमण वाले स्थान के चारों तरफ से बेरिकेडिंग की गई। जिससे किसी प्रकार का व्यवधान न हो। इसके अलावा टेहरका जाने वाले लोगों के आवागमन को सुचारू रूप से बनाए रखने के लिए वाहनों को दूसरी तरफ से निकलवाया।

सीएम शिवराज सिंह चौहान के निर्देशानुसार भू-माफिया के खिलाफ कार्रवाई जारी है। पृथ्वीपुर में उपचुनाव के बाद से सरकारी जमीन को अतिक्रमणकारियों से मुक्त कराने के लिए निवाड़ी कलेक्टर नरेन्द्र कुमार सूर्यवंशी भी एक्शन मोड में नजर आ रहे हैं। गौरतलब है कि रविवार को भू-माफिया अभियान के तहत नगर के टेहरका रोड खिस्टोन तिगैला से अतिक्रमण हटाकर करीब 12 करोड़ की जमीन को मुक्त कराया था।

नगर में कई स्थानों पर सड़क किनारे तक लोगों ने किया अतिक्रमण, इसे भी हटाए जाने की जरूरत

सोमवार को जमीन से करीब 4 से 5 गुना अधिक सरकारी जमीन पर अवैध कब्जे को हटाया गया। यहां करीब 20 दुकानों का निर्माण कराया जा रहा था। नगर के लोगों का कहना है कि प्रशासन अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई कर रहा है। ऐसे में सड़कों का चौड़ीकरण किया जाए। वहीं जिन लोगों ने सड़क किनारे अतिक्रमण कर पक्का निर्माण कर लिया है उसे भी हटाया जाए। जिससे जाम की समस्या से लोगों को निजात मिल सके।

नोटिस का जवाब देने का समय नहीं दिया और कर दी कार्रवाई, लगातार किया जा रहा टारगेट

इस मामले में विश्वेंद्र सिंह राठौर का कहना है कि मैं निजी काम से बाहर आया था। रविवार को घर से फोन आया कि अतिक्रमण संबंधी कोई नोटिस आया है। जिसका जवाब 13 दिसंबर को न्यायालय तहसीलदार के समक्ष प्रस्तुत होना था, लेकिन प्रशासन ने मौका ही नहीं दिया और कार्रवाई कर दी। उन्होंने कहा कि सभी को पता है कि किसके इशारे पर कार्रवाई की गई है। उपचुनाव से लगातार राठौर परिवार के लोगों और कार्यकर्ताओं को टारगेट किया जा रहा है।

रजिस्ट्री से अधिक जमीन पर कर रहे थे निर्माण, शिकायत पर तोड़ा

नगर के राधा सागर तालाब सर्किट हाउस से लगी जमीन पर विश्वेंद्र प्रताप सिंह राठौर के द्वारा अपनी रजिस्ट्री की जमीन से अधिक पर अतिक्रमण कर शॉपिंग कॉम्प्लेक्स का निर्माण किया जा रहा था। जिसकी शिकायत लगातार लोगों के द्वारा कलेक्टर से की जा रही थी। एसडीएम अंकिता जैन ने बताया कि निर्माणाधीन शाॅपिंग काॅम्पलेक्स करीब 700 वर्गमीटर सड़क से लगी बेशकीमती जमीन पर अतिक्रमण कर बनाया जा रहा था। जिसे राजस्व विभाग, नगर प्रशासन, पुलिस टीम के सहयोग से जमींदोज किया गया। उन्होंने बताया कि 125 वर्गमीटर पर बनाए निर्माण की अनुमति प्रशासन से ली गई थी। उसके बाद 700 वर्गमीटर सड़क की तरफ अतिक्रमण कर शॉपिंग कॉम्प्लेक्स का बनाया जा रहा था। जिसे एलएनटी मशीन एवं जेसीबी मशीन से जमींदोज किया गया।

एसडीएम जैन के अनुसार जितनी निर्माण कार्य की अनुमति थी। उतना निर्माण कार्य छोड़ दिया गया है। कार्रवाई में तहसीलदार मनीष जैन, एसडीओपी संतोष पटेल, थाना प्रभारी धर्मेन्द्र सिंह यादव, मुख्य नगर पालिका अधिकारी प्रदीप ताम्रकार सहित राजस्व विभाग नगर परिषद विभाग का अमला एवं बडी संख्या में पुलिस बल मौजूद था।

खबरें और भी हैं...