प्रधानमंत्री आवास याेजना:1631 हितग्राहियों के खाते में नहीं पहुंची आवास की दूसरी किश्त, तिरपाल डाले या किराए से रहना मजबूरी

टीकमगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 3993 लोगों ने योजना का लाभ पाने के लिए किया आवेदन, 3546 निकले पात्र

टीकमगढ़ नगर पालिका और बड़ागांव धसान नगर परिषद के हितग्राहियों को पीएम आवास याेजना की दूसरी किश्त नहीं मिल रही है। जिससे उनके मकान अभी अधूरे पड़े हैं। इस कारण यह लाेग परिवार सहित खुले आसमान के नीचे रहने को मजबूर हैं। करीब 1631 लोगों को आवास की दूसरी किश्त का इंतजार है।

एक लाख से अधिक आबादी वाले क्षेत्र टीकमगढ़ नगर पालिका में 3993 लोगों ने अपने कच्चे आशियाना को पक्का बनाने के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना का आवेदन किया था। जिनमें 3546 लोगाें को पात्र मानकर हितग्राहियों को पीएम आवास का लाभ दिया जा चुका है। वर्ष 2016-17 से शुरू आवास योजना में वर्ष 2021 तक इन लोगों को लाभ मिल चुका है, लेकिन इनमें 1631 लोग ऐसे हैं जिनको आवास की दूसरी किश्त नहीं मिली है। जिससे वे अधूरे मकान में रहने को मजबूर हैं। उनका आशियाना अब तक पूरा नहीं हो पाया है। एक साल से वे दूसरी किश्त के इंतजार में हैं। किश्त नहीं मिलने से परिवार को छत नहीं मिल पा रही है।

केस 1- 8 माह से नहीं मिली दूसरी किश्त

बड़ागांव धसान में रहने वाले मनका पटेल का एक साल पहले प्रधानमंत्री आवास स्वीकृत हुआ था। उनके खाते में पहली किश्त एक लाख रुपए की आ गई थी। जिस पर उन्होंने कच्चा मकान तुड़वाकर दीवारें खड़ी कर ली थीं। अब 8 माह से दूसरी किश्त नहीं मिलने से टीनशेड और कपड़ा डालकर खुले में रहने की समस्या से जूझ रहे हैं। उन्होंने कहा कि अगर दूसरी किश्त मिल जाए तो छत ढाल सकेंगे।

केस 2- 10 माह से नहीं मिली दूसरी किश्त, कई चक्कर लगाए पर नहीं हुई सुनवाई, दूसरे के मकान में रह रहे

बड़गांव की पुनुआ पटेल भी दूसरी किश्त का इंतजार कर रही हैं। उनकी पहली किश्त आने पर दीवारें खड़ी कर दी गई थीं। समय पर दूसरी किश्त नहीं आने से मकान अधूरा डला है। जिससे दूसरे के मकान में रहने के लिए मजबूर हैं। दूसरी किश्त के लिए उन्होंने कई बार नगर परिषद के चक्कर लगाए। इसके बाद भी राशि अब तक नहीं मिल सकी।

केस3- दो बार आवेदन किया, फिर भी कर दिया अपात्र, कच्चे मकान में रहने को मजबूर पूरा परिवार

बड़ागांव निवासी रामकुमार नामदेव का मकान कच्चा है। प्रधानमंत्री आवास का लाभ लेकर पक्का मकान बनवाने के लिए दाे बार नगर परिषद में आवेदन कर चुके हैं लेकिन उन्हें अपात्र कर दिया जा रहा है। जिससे पूरा परिवार कच्चे मकान में रहने को मजबूर है।

आवास अधूरे हितग्राही कर रहे दूसरी किश्त का इंतजार

बड़ागांव धसान नगर परिषद के अंतर्गत प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत स्वीकृत डीपीआर में 896 लोगों को शामिल किया गया था। जिनमें से 540 लोगों की जियो टेगिंग की जा चुकी है। वहीं 200 लोगों को अपात्र घोषित किया गया है। अब ऐसे में इनमें 100 हितग्राही ऐसे हैं, जिनको आवास की दूसरी किश्त नहीं मिल सकी। वे आवास की किश्त के इंतजार में हैं।

5 साल में पीएम आवास की किश्त इस तरह पहुंची

  • वर्ष 2016-17 में सबसे पहले 270 हितग्राहियों को एक-एक लाख रुपए की दो किश्त डाली गईं। इनमें से 75 फीसदी लोगों के खाते में 25-25 हजार की राशि अब तक नहीं पहुंची ।
  • वर्ष 2017-18 में 1065 पात्र हितग्राहियों को एक-एक लाख रुपए की दो किश्तें दी जा चुकी हैं। अभी इनमें से 50 फीसदी लोगों को शेष 50 हजार की राशि का इंतजार है।
  • वर्ष 2017-18 में ही दूसरी सूचि में 729 लोगों ने आवेदन किया था। जिनमें 566 लोगों को एक-एक लाख रुपए दो किश्तों में दिए जा चुके हैं।
  • वर्ष 2018-19 में 1915 लोगों ने आवेदन किया था। जिसमें से 1631 लोगों को पात्र माना गया। जिनको एक-एक लाख रुपए की राशि डाली गई। दूसरी किश्त अब तक नहीं मिली है।
  • वर्ष 2019-20 में 14 लोग योजना के लिए पात्र थे। जिन्हें एक-एक लाख रुपए की राशि दो किश्तों में डाली गई।

पात्रों को पीएम आवास का लाभ दिया जाएगा

बड़ागांव नगर परिषद में जैसे-जैसे लोगों के आवेदन आते है उनकी जांच कराई जाती है। अगर वे व्यक्ति पात्र की श्रेणी में आते है तो उनको पीएम आवास का लाभ दिया जाएगा। वहीं जिनको दूसरी किश्त नहीं मिली है। उनको जल्द ही दूसरी किश्त पहुंचाई जाएगी। - प्रमोद कुमार जैन, आवास योजना प्रभारी

राशि आवंटित होते ही खातों में पहुंचाई जाएगी

जो लोग आवास योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन करते हैं। उनकी सूची अनुविभागीय कार्यालय जाती है। पात्र होने पर उनकाे लाभ दिया जाता है। जिन लोगों को दूसरी किश्त नहीं मिली है। उनके लिए राशि आवंटित होते ही उनके खातों में डाली जाएगी। - रीता कैलासिया, सीएमओ नपा टीकमगढ़

खबरें और भी हैं...