पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मनमानी:सीएम और कलेक्टर के आदेश, फिर भी हल्कों में नहीं पहुंच रहे पटवारी, भटक रहे ग्रामीण

टीकमगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सख्त कार्रवाई के निर्देश, इसके बावजूद अधिकांश हल्कों में नहीं मिले पटवारी

अब तक कई पटवारी मुख्यालय पर न जाकर घर से ही हल्के का कामकाज करके मौज करते थे, लेकिन अब हर सोमवार व गुरुवार को गांव में रुककर लोगों की समस्याओं का समाधान करना है। ऐसा करने में लापरवाही करने वाले पटवारियों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश हैं। बावजूद इसके जिले के अधिकांश हल्कों में पटवारी गुरुवार को बैठे ही नहीं।

राजस्व प्रकरणों एवं भूमि संबंधी समस्याओं के तत्परता से निराकरण के लिए पटवारियों को सोमवार और गुरुवार अपने पटवारी हलके के मुख्यालय पर रहने के लिए सीएम शिवराज सिंह चौहान ने निर्देशित किया है। इसके बाद कलेक्टर सुभाष कुमार द्विवेदी ने आदेश निकालकर पटवारियों को ग्रामीण मुख्यालय पर रहने के निर्देश दिए हैं। जिले के सभी अनुभागों में यह व्यवस्था प्रभावी रूप से लागू हो भी हो चुकी है।

जब गुरुवार को दैनिक भास्कर की टीम ने गांव में जाकर निरीक्षण किया तो जटेरा, करमासन हटा, डारगुवां और सुजानपुरा की पंचायतों में ताले लटके नजर आए। जहां न तो पटवारी थे और न ही लोगों की समस्याएं सुनने कोई और।

जिले के 10 शहरी और ग्रामीण हल्का क्षेत्र 323 हैं। जिनमें 306 पटवारी इस समय पदस्थ हैं। कुछ ही हल्कों का पटवारी को डबल चार्ज दिया गया है। बावजूद इसके पटवारियों से जुड़ी शिकायतें अक्सर सामने आती रहती हैं कि पटवारी महीनों तक हल्का क्षेत्रों में नहीं जाते। इतना ही नहीं उनके मोबाइल नंबर भी अक्सर बंद मिलते हैं। भू-अभिलेख शाखा अधीक्षक डॉ. अनिल गुप्ता ने बताया कि पटवारी को सोमवार और गुरुवार को हल्के में उपस्थित रहने के आदेश दिए हैं।

गांव के लोग बोले- सोमवार-गुरुवार तो ठीक, अन्य दिनों में भी नहीं आत

जटेरा निवासी मनीष मिश्रा बंटवारा करवाना चाहते हैं, लेकिन पटवारी पिछले कई दिनों से हल्के में आईं ही नहीं। वहीं लक्ष्मन लोधी और नौनेलाल का कहना है कि सीएम की योजना है कि किसानों को 4 हजार रुपए खाते में और आना है। इसके लिए अपना खाता लिंक करवाना है, लेकिन काम नहीं हो पा रहा है।

जयकुमारी यादव पिछले नौ माह से बंटवारा होने के बाद रिकार्ड में चढ़वाने को लेकर परेशान हैं। इससे बंदी नहीं बन पा रही है और न ही केसीसी का लाभ मिल पा रहा है। उन्होंने कहा कि सोमवार-गुरुवार तो ठीक पटवारी सप्ताह के अन्य दिनों में भी न तो पंचायत और न ही तहसील में मिलते हैं।

सुजानपुरा गांव निवासी हरदयाल सिंह का कहना कि पिछले कई दिनों से नामांतरण कराना है, लेकिन हल्के की पटवारी मैडम हैं, जो अधिकांश समय मिलती ही नहीं हैं। हीरानगर निवासी जाहर सिंह ने बताया कि बीपीएल कार्ड के लिए बहुत दिन से परेशान हो रहा हूं। बीपीएल कार्ड बनवाने के लिए पटवारी की रिपोर्ट जरूरी हैं, ऐसे में हल्के पर पटवारी के न मिलने से दिक्कत हो रही है।

पटवारियों पर होगी सख्त कार्रवाई

गुरुवार को अधिकांश ग्राम पंचायतों में पटवारी नदारद रहे। इस मामले में जब कलेक्टर सुभाष कुमार द्विवेदी से बात की तो उन्होंने कहा कि शासन के आदेशों की अवहेलना करना बड़ी लापरवाही है। जिन पंचायतों में पटवारी गुरुवार को नहीं पहुंचे हैं। उनकी जांच कर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें