ज्योतिष / 29 जून को देवशयन से पहले आखिरी शादी का मुहूर्त

X

  • लॉकडाउन-3 तक निकले विवाह मुहूर्तों में विवाह संपन्न नहीं करा पाए थे, वे करा सकते हैं

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

टीकमगढ़. लॉकडाउन ने उन परिजनों की बैचेनी बढ़ाई हुई है, जिन घरों में इस साल विवाह होने थे। ऐसे परिजन जो लॉकडाउन-3 तक निकले विवाह मुहूर्तों में विवाह संपन्न नहीं करा पाए थे, वे भड़ल्या नवमी के अबूझ मुहूर्त के बारे में विचार कर रहे हैं। आषाढ़ माह के शुक्ल पक्ष की नवमीं तिथि को भड़ली नवमीं 29 जून को आने वाला यह अबूझ मुहूर्त अक्षय तृतीया जैसा ही है।
लॉकडाउन में मिली छूट के बीच मई और जून में बचे विवाह मुहूर्त को लेकर लोग पंडितों को फोन करने लगे हैं। हालांकि, सबसे ज्यादा उन वर-वधू के परिजन परेशान हैं, जिनकी कुंडली में विवाह के लिए शुभ मुहूर्त एक साल तक नहीं है, इसीलिए वे 29 जून को भड़ली नवमीं के अबूझ मुहूर्त पर विवाह करना चाहते हैं। 

लॉक डाउन 4 में विवाह में 50 लोगों की छूट दी गई है। वहीं 31 मई को लॉक डाउन पूरी तरह से खुलने की लोगों की ओर से आशंका जताई जा रही है। जिससे मांगलिक कार्यक्रमों को सीमित कर विवाह विधि-विधान से किया जा सकता है। इसको लेकर पंडित विवेक दीक्षित का कहना है कि हालात और परिस्थितियों को देखते हुए सीमित समय एवं सीमित संसाधनों में भी विवाह की सभी रस्में निभाई जा सकती हैं। एक दिन में ही विवाह की रस्में हो सकेंगी पूरी वर-वधु पक्ष विवाह रस्में 2-3 दिन की बजाय एक ही दिन में पूरी कर सकते हैं। इस बार 4 की बजाय 5 माह का होगा चातुर्मास इस बार आश्विन अधिक मास के चलते चातुर्मास 4 की जगह 5 माह का होगा। शादी विवाह के लिए भड़ली नवमीं के बाद एक माह अधिक इंतजार करना पड़ेगा।

भड़ली नवमीं के दो दिन बाद सोएंगे देव, नहीं हो सकेंगे शुभ कार्य
पंडित दीक्षित ने बताया कि भड़ली नवमीं को आमतौर पर विवाह के शुभ मुहूर्तों के दिनों का अंतिम दिन माना जाता है। भड़ली नवमीं के 2 दिन बाद देवशयनी एकादशी पर भगवान आमतौर पर सो जाते हैं, इसलिए केवल इस अवधि के दौरान सभी शुभ गतिविधियां हो सकेंगी। भड़ली नवमीं के बाद 5 महीनों तक विवाह या अन्य शुभ कार्य नहीं किए जा सकते, क्योंकि इस दौरान सभी देवी-देवता सो जाएंगे। देव उठनी एकादशी पर पर चातुर्मास समाप्त होगा। विवाहित जीवन को खुश करने के लिए भगवान विष्णु का आशीर्वाद आवश्यक होता है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना