पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नवरात्र महोत्सव:नवरात्र में सूने रहेंगे शहर के मैरिज गार्डन, नहीं होंगे गरबा

टीकमगढ़8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • शासन की नई गाइड लाइन में नहीं मिली गरबा आयोजन की अनुमति, समितियों ने नहीं की तैयारी

नवरात्र का पर्व शुरू होने में अब तीन दिन का समय रह गया है। शहर में हर साल नवरात्र महोत्सव में पांच से अधिक स्थानों पर सामाजिक संगठनों द्वारा गरबा का आयोजन किया जाता था, लेकिन इस बार कोरोना महामारी के चलते किसी भी संगठन या ग्रुप ने गरबा आयोजन की तैयारी नहीं की है। नई गाइड लाइन में गरबा की अनुमति भी नहीं मिली है। ऐसे में संगठनों के पदाधिकारियों का कहना है कि वे इस बार गरबा का आयोजन नहीं करवाएंगे। अभी तक कार्यकर्ताओं की कोई तैयार नहीं है। रिहर्सल भी नहीं हुई है। इस कारण पिछले 10 वर्षो में यह पहला मौका है, जब इस बार नवरात्र में कोई भी सांस्कृतिक आयोजित नहीं होंगे।

मैरिज गार्डन इस महोत्सव में सूने रहेंंगे। सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए शहर में दो दर्जन से अधिक मैरिज गार्डन है, लेकिन अभी तक गरबा और अन्य आयोजनों के लिए गार्डनों की बुकिंग नहीं हुई है। इससे गार्डन वाले भी काफी परेशान है। उन्हें काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है। आयोजक भी संक्रमण फैलने के डर से भीड़ वाले कार्यक्रमों से दूरी बना रहे है। यही कारण है कि इस बार नवरात्र महोत्सव पिछले सालों की तुलना में फीका ही रहेगा।

कोरोना ने नवरात्र के उत्साह को किया कम
डिवाइन ग्रुप द्वारा शानदार गरबा महोत्सव का आयोजन किया जाता था। आयोजक पूनम जयसवाल ने बताया कि आयोजन की तैयारियां एक माह पहले शुरूकर दी जाती थी, बच्चों और महिलाओं के अलग-अलग ग्रुप बनाकर लोगों को जोड़ा जाता था। इसके साथ ही मैरिज गार्डन की बुकिंग, साउंड सिस्टम, गरबा की रिहर्सल, लाउड स्पीकर, ड्रेस डिजाइन सहित पूरी तैयारियां कर ली जाती थी, लेकिन इस बार कुछ नहीं हुआ। इस आयोजन में करीब 50 महिलाएं गरबा करने के लिए शामिल होती थी।

गरबा कराने महानगरों से आते थे कोरियोग्राफी
ग्रुप के सदस्यों ने बताया कि बीते वर्षों में पहले स्थानीय स्तर पर गरबा किया जाता था, लोगों की ज्यादा रूचि बढ़ने पर बड़े स्तर पर गरबा महोत्सव शुरू किया गया। बच्चों और महिलाओं को गरबा का प्रशिक्षण देने के लिए महानगरों से कोरियोग्राफी को बुलाते थे। जिससे गरबा नए किरदार में हो। नवरात्र में होने वाला गरबा लोगों को खूब लुभाता था, जिसे देखने के लिए बड़ी संख्या में शहर के लोग पहुंचते थे।

खबरें और भी हैं...