कृषि विज्ञान केंद्र / कोविड-19 लॉक डाउन में पशुपालकों को वैज्ञानिकों ने दी सलाह

X

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

टीकमगढ़. कोविड-19 लॉकडाउन के चलते पशुपालकों के लिए महत्वपूर्ण सलाह दी है। कृषि विज्ञान केंद्र डॉ. बीएस किरार, वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं प्रमुख, डॉ. एसके खरे वैज्ञानिक (पशु चिकित्सक) ने पशुओं की देखभाल के लिए सलाह दी।

पशु चराने वाले (चरवाहा) और पशुशाला में काम करने वाले कृषक-मजदूरों को अपने मुंह पर मास्क या कॉटन कपड़ा बांध कर रहे और सैनिटाइजर या साबुन से बार-बार हाथ की धुलाई करें। पशुशाला को साफ एवं घोल बनाकर सैनिटाइजर का छिड़काव करें। पशु में बीमारी के लक्षण दिखने पर उसे तुरंत स्वस्थ्य पशुओं से अलग कर दें। निःशुल्क हेल्पलाईन नम्बर 1962 पर फोन कर पशु चिकित्सक को बुलाकर इलाज कराए। इस सुविधा के लिए शासन द्वारा पशुचिकित्सक मोबाइल वाहन की 100 रुपए शुल्क निर्धारित की गई है। पशुओं को स्वस्थ्य रखने के लिए हरा चारा, दाना, आवास, पानी और उपयोगी वर्तनों को ठीक प्रकार से सर्फ-साबुन से धुलकर स्वच्छ रखे। पशुओं को मुंह और खुरपका (पैर) रोग से बचाने के लिये पशुचिकित्सक से गाय-भैंस में हैमरेजिक सेप्टीसीमिया और बकरियों में पीपीआर का टीका लगवाएं। गर्मियों में पशुओं को छायादार ठंडे स्थान पर बांधना चाहिए। पशुओं को पीने की साफ पानी की व्यवस्था होना चाहिए। गर्म हवाएं चलने एवं पशु सीधे धूप में बधे रहने से पशु को लू लग जाती है। जिससे उसके शरीर का तापमान बढ़ जाता है। लू बचाव के लिए पशु को ठंडे पानी से नहलाना चाहिए और उसके सिर पर वर्फ रखनी चाहिए तथा पशु को ठण्डे स्थान पर बांधना चाहिए।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना