वार्ता:मप्र व उप्र के सीएम बताएं अब तक क्यों शुरू नहीं हाे पाई केन-बेतवा लिंक परियोजना : उमा भारती

टीकमगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • टीकमगढ़ में उमा भारती ने कहा- राम मंदिर का आंदोलन इतिहास में 500 साल से चला आ रहा

मप्र की पूर्व सीएम सुश्री उमा भारती सोमवार को टीकमगढ़ प्रवास पर रहीं। इस दौरान वह मीडिया से मुखातिब हुईं। चर्चा के दाैरान केन-बेतवा लिंक परियोजना के अब तक शुरू न होने के सवाल पर उमा भारती ने कहा कि मेरे केंद्रीय मंत्री कार्यकाल के दौरान जो भी समस्याएं थीं, उन्हें लगभग निपटा दिया था। सिर्फ केन-बेतवा के पानी के विभाजन का मुद्दा था, जाे लगभग निपट चुका था, लेकिन अब तक केन-बेतवा लिंक परियोजना को अमली जामा क्यों नहीं पहनाया जा सका।

इस पर मप्र के सीएम शिवराज सिंह और उप्र के सीएम योगी आदित्यनाथ जवाब दें कि यह परियोजना अब तक क्यों शुरू नहीं हो पाई है। इस परियोजना के शुरू होने से बुंदेलखंड के हजारों किसानों को फायदा होगा। फिर इसे शुरू करने में देरी क्यों?

6 दिसंबर अयोध्या के राम मंदिर के लिए सबसे बड़ा दिन

उमा भारती ने 6 दिसंबर को अयोध्या के राममंदिर के लिए सबसे बड़ा दिन बताया। उन्होंने कहा कि भारत के राम मंदिर का इतिहास में 500 साल से आंदोलन चला आ रहा है। तीर्थ स्थान रामलला का मंदिर है। अयोध्या में विवादास्पद ढांचा गिराया गया था। इस बीच जो-जो नाम सामने आए थे, उसमें एक नाम मेरा भी था। इसके बाद से यूपी-एमपी सहित अन्य राज्यों की सरकारें गिरा दी गई थीं।

इस घटना के बाद से भाजपा यूपी में सरकार नहीं बना सकी थी। राममंदिर का मुद्दा तात्कालिक नहीं है। 1996-98 के लोकसभा चुनाव में राममंदिर का मुद्दा भी शामिल था। हमने इसे राष्ट्रीय अस्मिता और आस्था का प्रतीक माना है। जिसको लेकर भाजपा इसे पूरा करने में जुटी रही। राजनैतिक दलों काे लगता है कि धार्मिक मुद्दों को लेकर भाजपा राजनीति करती है, लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है।

राजनीति के लिए कोई उम्र नहीं: उमा

  • सवाल : राजनैतिक कॅरियर और कब तक राजनीति करेंगी?
  • जवाब : राजनीति के लिए कोई उम्र नहीं होती। उन्होंंने कहा कि 1984 में भाजपा की न के बराबर सीटें थीं। तभी से राजनैतिक जीवन का सफर चल रहा है और आगे भी चलता रहेगा।
  • सवाल : इस समय देश में भाजपा काम कर रही है या संघ?
  • जवाब : संघ अपना काम कर रहा है और पार्टी अपना काम कर रही है। उन्होंने कहा कांग्रेसियों को भी आरएसएस की शाखा में जाने की जरूरत है। जिससे कांग्रेसियों में संस्कार और राष्ट्रभक्ति जागृत हो सके।
  • सवाल : मथुरा और काशी की विवादास्पद स्थिति को निपटाने में आपका योगदान रहेगा या नहीं?
  • जवाब : यह पार्टी फाेरम के ऊपर निर्भर करेगा, लेकिन मेरी निजी आस्था है कि मथुरा और काशी में भी विवाद का निदान होना चाहिए।
खबरें और भी हैं...