पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बड़ी लापरवाही उजागर:टीकमगढ़ ब्लाॅक के 30 अध्यापकों के वेतन से काटी गई राशि पेंशन स्कीम खाते में नहीं पहुंची

टीकमगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • विभाग द्वारा कर्मचारियों के एनपीएस के खाते में पहुंचाई जानी थी राशि

शिक्षा विभाग में एनपीएस (नेशनल पेंशन स्कीम) के नाम पर शिक्षकों के खाते से वेतन काटने की राशि का मामला उजागर हुआ है। शिक्षकों के खाते से 10 प्रतिशत वेतन तो काटा गया है लेकिन राशि पेंशन खाते में जमा नहीं की गई। जब शिक्षकों ने खाता चैक किया तो पता चला कि यह राशि एनपीएस के खाते में पहुंची ही नहीं है। जिससे टीकमगढ़ ब्लॉक के 30 शिक्षकों के वेतन में करीब 20 लाख रुपए की मिसिंग हुई है। एकत्रित होने वाली यह राशि पेंशन के रूप में शिक्षकों को मिलनी है, लेकिन इससे पहले बड़ी लापरवाही उजागर हुई है।

दरअसल वर्ष 2005 के बाद नियुक्ति वाले शिक्षा विभाग के सभी कर्मचारियों को पुरानी पेंशन के स्थान पर नवीन पेंशन योजना का लाभ देने के उद्देश्य से जीपीएफ के स्थान पर एनपीएस के खातों में कटौती की जा रही थी। इसके लिए कर्मचारी के वेतन से 10 प्रतिशत और इतनी ही 10 प्रतिशत राशि सरकार के अंशदान से कर्मचारी के एनपीएस के खाते में जमा की जाती है, लेकिन यहां शिक्षकों के वेतन से राशि तो काट ली, पर एनपीएस खाते में अब तक नहीं पहुंचाई।

यह स्थिति तब पता चली जब शिक्षकों ने अपने एनपीएस खातों का स्टेटमेंट निकालकर चैक किया। जिसमें अध्यापकों की वर्ष 2019 से लेकर वर्तमान तक की राशि खातों में जमा नहीं की गई है। इस प्रकार यह मिसिंग राशि लाखों रुपए में पहुंच गई है। हाल में ब्लाॅक में 30 ऐसे शिक्षक सामने आए हंै। जिनकी राशि का आंकलन किया जाए तो लगभग 20 लाख रुपए से अधिक है। जिसे खाते में राशि जमा नहीं करने की बड़ी लापरवाही सामने आई है।

खातों में दो साल में 20 लाख रुपए की मिसिंग दिखाई दे रही

78 हजार रुपए काटे, लेकिन खाते में नहीं पहुंचे

शासकीय माध्यम शाला सगरवारा में पदस्थ आध्यापक प्रमोद कुमार नापित की वेतन से राशि काटकर एनपीएस के खाते में जमा की जाती है, लेकिन वर्ष 2019 में काटी गई राशि को अब तक एनपीएस के खाते में जमा नहीं किया गया। जिसकी राशि अब तक 78 हजार 401 रूपए काटी जा चुकी है।
72 हजार रुपए की राशि काटी गई, खाते में नहीं

शासकीय माध्यमिक शाला नैनवारी में पदस्थ आध्यापक नरेंद्र नरवरिया की वेतन से प्रत्येक महीने राशि काटी गई। जिसमें 72 हजार 736 रूपए की राशि एनपीएस के खाते में नहीं पहुंची, यहां तक कि इतनी ही राशि शासकीय अंशदान से जानी जो यह भी नहीं डाली गई।

स्टेटमेंट में पता चला 68 हजार रुपए नहीं पहुंचे

आध्यापक आशीष कुमार खरे की वेतन से अलग-अलग महीने में राशि काटी गई। जो अब तक 68 हजार रूपए एनपीएस के खाते में नहीं पहुंचे। खाते से महीने बार का स्टेटमेंट निकालने के बाद ही शिक्षकों को पता चला। इस तरह करीब 15 महीने की वेतन की मिसिंग हो रही है।

यह लापरवाही सुधारी नहीं गई तो शिक्षकों का होगा बढ़ा नुकसान
यह परमानेंट पेंशन नहीं है। अगर राशि का हेरफेर होता है। शिक्षकाें का पैसा भी डूब सकता है। शिक्षा विभाग के जिम्मेदारों द्वारा इस मिसिंग राशि का समायोजन किया जाए। अगर समय रहते इस राशि का समायोजन नहीं किया गया तो अध्यापकों शिक्षकों को बड़ा आर्थिक नुकसान होगा। शिक्षकों के वेतन से काटी जाने वाली राशि मिसिंग होना यह बड़ा सवाल है। फिलहाल टीकमगढ़ ब्लाॅक की यह स्थिति सामने आई है। जिले में ऐसे कितने शिक्षक है, इसका अभी अंदाजा भी नहीं लगाया जा सकता है।

जल्द ही शिक्षकों की समस्या को दूर कर दिया जाएगा

एनपीएस के खाते में शिक्षकों की वेतन की राशि नहीं पहुंचने की जानकारी मिली है। जिन शिक्षकों की राशि खाते में जमा नहीं हुई उनको दिखवाया जा रहा है। अभी हाल में एक शिक्षक का मामला सुलझा दिया गया है। जल्द ही सभी शिक्षकों की समस्या को दूर कर दिया जाएगा।
- एचसी दुबे, जिला शिक्षा अधिकारी, टीकमगढ़

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

    और पढ़ें