• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Tikamgarh
  • There Are 271 Dengue Patients In The District, Out Of Which 159 In The City, Seven New Dengue Cases In The City In Two Days, Three Each At Kumedan And Old Bus Stand And One At Rajmahal.

डेंगू का डंक:जिले में डेंगू के 271 मरीज, इनमें शहर के 159‎, दो दिन में शहर में डेंगू के सात नए केस, तीन-तीन कुमेदान व पुराना बस स्टैंड और एक राजमहल पर मिला‎

टीकमगढ़‎एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

वायरल फीवर के शिकार मरीज‎ अब डेंगू पॉजिटिव होने लगे हैं।‎ बढ़ते केसों से अब जिले में खतरा ‎बढ़ने लगा है। स्वास्थ्य विभाग का ‎सर्वे भी ऐसे में नाकाम साबित हो‎ रहा है। नवंबर के पांच दिन में‎ शहरी क्षेत्र में ही 14 डेंगू मरीज ‎पॉजिटिव मिल चुके हैं। जिनमें‎ त्योहार के इन दो दिनों में तीन‎ मरीज पुराना बस स्टैंड, तीन‎ कुमेदान मोहल्ला और एक मरीज ‎राजमहल क्षेत्र में निकला है। इससे ‎पहले मिलने वाले सात मरीज भी‎ शहर से ही हैं। ऐसी स्थिति में डेंगू‎ पर अंकुश लगना स्वास्थ्य विभाग‎ के लिए मुश्किल दिखाई दे रहा है।‎

दरअसल शहर के वार्डों के‎ घर-घर का सर्वे करने में जुटी‎ टीमों को कई घरों में लार्वा भी‎ मिला है, लेकिन नष्ट करने के‎ बाद भी डेंगू के केस निकल कर‎ बढ़ते जा रहे हैं। इसके अलावा‎ शहर के साथ-साथ अब तहसील‎ क्षेत्र में भी मरीजों की संख्या बढ़ने‎ लगी है।

अब तक जिले में डेंगू के‎ 271 केस सामने आ चुके हैं।‎ जिले में मरीजों की संख्या बढ़ती‎ जा रही है। जिला अस्पताल मेें भी‎ इलाज के लिए बड़ी संख्या में‎ लाेग पहुंचने लगे हैं। रोजाना 24‎ घंटे में अस्पताल की ओपीडी‎ 600 से अधिक हो रही है। जिनमें‎ सबसे ज्यादा मरीज वायरल‎ फीवर के आ रहे हैं।

डॉक्टर‎ अनुज रावत का कहना है कि‎ मरीजों का फीवर ठीक नहीं होने‎ से चैकअप कराने पर डेंगू‎ पॉजिटिव आ रहा है। ऐसी स्थिति‎ में लोगों को सतर्कता बरतना बहुत‎ जरूरी है।‎

जिले में टीकमगढ़ में 159,‎ बल्देवगढ़ में‎ 38, जतारा 41,‎ बड़ागांव धसान में 20,‎ पृथ्वीपुर में‎ 5, पलेरा में 4, निवाड़ी में 2‎ मरीज‎ निकल चुके हैं। वहीं दो मरीज ऐसे‎ हैं‎ जिनकी हिस्ट्री नहीं मिल पा रही‎ है।जिससे‎ मरीजों का स्थाई पता‎ नहीं चल पा रहा है।‎‎

नवंबर के पांच दिन में शहर में 14 मरीज बढ़े‎‎

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के‎ अनुसार 31‎ अक्टूबर को शहर में डेंगू‎ मरीजों की संख्या‎ 145 थी, जो पांच‎ दिनों में बढ़कर 159 हो‎ गई। स्वास्थ्य‎ विभाग ने पुराना बस स्टैंड‎ और‎ कुमेदान मोहल्ले को हॉट स्पॉट चिंहित‎‎ भी किया था। इससे पहले मदार‎ चिल्ला‎ और नरैया मोहल्ला में बने‎ हॉट स्पॉटों को‎ खत्म किया जा चुका‎ है।

वहीं जिले की‎ स्थिति देखें तो अब‎ तक मरीजों की संख्या‎ 271 पहुंच गई‎ है। शहरी क्षेत्र के साथ-साथ‎‎ बल्देवगढ़ और जतारा तहसील में‎ मरीजों‎ का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है।‎‎

जिले में टीमों द्वारा सर्वे, फिर भी निकल रहे‎ केस‎‎

जिले में लार्वा सर्वे के लिए नगर‎ पालिका,‎ महिला बाल विकास और‎ मलेरिया विभाग‎ द्वारा 27 दल बनाए‎ गए हैं। इनके द्वारा लार्वा‎ सर्वे किया जा‎ रहा है। एक दल में 7‎ कर्मचारियों को‎ रखा गया है।जिससे जल्द‎ से जल्द‎ लार्वा पकड़ में आ सके, लेकिन‎ फिर‎ भी लगातार डेंगू के केस बढ़ रहे हैं।‎‎ इसके अलावा कर्मचारी लगातार दवा‎ का‎ छिड़काव और फॉगिंग मशीन से‎ दवा डाल‎ रहे हैं। फिर भी मरीज की‎ संख्या बढ़ती जा‎ रही है।‎‎

अधिकारी बोले- डेंगू का पीक समय निकल गया‎‎

स्वास्थ्य विभाग लगातार सर्वे कर रहा है।‎ डेंगू का जो पीक समय था वह‎ निकल गया‎ है। लार्वा सर्वे के बाद शहर में डेंगू के‎ मरीज मिलना कम हुए‎ हैं। उम्मीद है अगले‎ सप्ताह से मरीजों की संख्या कम हो‎ जाएगी।इसके‎ लिए नपा अमले के साथ‎ मिलकर फिर से सर्वे करना पड़ा तो करेंगे।‎‎- हरि मोहन रावत, जिला मलेरिया‎ अधिकारी‎

खबरें और भी हैं...