बाहरी लोगों का प्रवेश बंद:गांव की सरहद पर पेंट से संदेश लिखकर बाहरी लोगों से नहीं आने की अपील की

टीकमगढ़6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
टीकमगढ़ | पैतपुरा गांव काे संक्रमणा से बचाने के लिए ग्रामीणाें ने बाहरी लोगों के प्रवेश को किया प्रतिबंधित। - Dainik Bhaskar
टीकमगढ़ | पैतपुरा गांव काे संक्रमणा से बचाने के लिए ग्रामीणाें ने बाहरी लोगों के प्रवेश को किया प्रतिबंधित।
  • पैतपुरा गांव का मामला-पैतपुरा के लोेग भी नहीं जाएंगे गांव से बाहर, ग्रामीणों ने प्रशासन से बैरिकेड्स लगाने की मांग की

कोराना वायरस का संक्रमण अब गांवों में भी पहुंच गया है। ऐसे में ग्राम पंचायतें खुद अपने गांव को महामारी से बचने के लिए तरह-तरह के प्रयोग कर रही हैं। जतारा जनपद के पैतपुरा गांव की सरहद पर पेंट से संदेश लिखकर बाहरी लोगों से अपील की है, कि वह गांव में नहीं आएं, लॉकडाउन के दौरान गांव में बाहरी लोगों का आना मना है। ग्रामवासियों को भी गांव से बाहर जाने के लिए प्रतिबंधित किया गया है। गांव के लोगों ने बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश को स्व प्रेरणा से प्रतिबंध किया है।

मुख्य सड़क पर लिखी चेतावनी

कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने पैतपुरा ग्राम पंचायत ने महत्वपूर्ण कदम उठाया है। सरपंच, सचिव सहित ग्रामीणों की सहमति से गांव में बाहरी लोगों के आने और गांव के लोगों के बाहर जाने पर रोक लगाई गई है। गांव की मुख्य सड़क पर इसकी सूचना भी अंकित की गई है।

साथ ही ग्रामीणों ने मुख्य मार्ग पर बेरिकेड्स लगाने की मांग प्रशासन से की है। कोरोना कर्फ्यू का पूर्णत: पालन करने जतारा जनपद की पैतपुरा ग्राम पंचायत ने मिसाल पेश की है। विश्व व्यापी महामारी कोविड-19 वायरस के संक्रमण की चैन तोड़ने के लिए सर्वसहमति से निर्णय लिया गया है।

जिसके अनुसार बाहरी लोगों का गांव में आवागमन पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा। सरपंच तीजियाबाई कुशवाहा, सचिव राजेश मिश्रा, रोजगार सहायक जगदीश प्रसाद अहिरवार, सुनील कुशवाहा, कमलेश कुशवाहा, राजू कुशवाहा, सुरेंद्र कुशवाहा, रविराज सू्र्या, राजकुमार अहिरवार, साहिब अहिरवार, राहुल भास्कर आदि ने गांव की मुख्य सड़क पर इस संबंध में चेतावनी अंकित की है, जिससे बाहरी लोग इसे पढ़कर बाहर से ही लौट जाएं। पैतपुरा के ग्रामीणों का भी गांव से बाहर जाना प्रतिबंधित किया गया है।

खबरें और भी हैं...