• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Satna
  • The Foul Smell Was Coming From The Bushes, After Seeing It, The Dead Body Was Lying, When The Police Identified It, It Came To Know That He Had Not Gone Home For Two Days.

दो दिन पुराना शव बरामद:झाड़ियों से आ रही थी दुर्गंध, पास जाकर देखे तो पड़ी थी डेड बॉडी, पुलिस ने शिनाख्त की तो पता चला कि 2 दिन से नहीं गया था घर

सतनाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
घटनास्थल को जांचती रामनगर पुलिस। - Dainik Bhaskar
घटनास्थल को जांचती रामनगर पुलिस।
  • रामनगर थाना अंतर्गत गजांस गांव का रहने वाला है मृतक, परिजन हत्या तो पुलिस बता रही शराब पीने के बाद मौत

सतना जिले के रामनगर थाना अंतर्गत गजांस गांव में एक डेड बॉडी बरामद हुई है। बताया गया कि झाड़ियों से आ रही दुर्गंध के बाद पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने शिनाख्त की तो पता चला कि जिस युवक का शव बरामद हुआ है वह दो दिन से घर नहीं गया था। वहीं घर वाले सोच रहे थे कि वह दुकान में होगा।

पुलिस का दावा है कि वह गांव में ही शराब पीने के बाद झाड़ियों में लेट गया था। आशंका है कि ज्यादा शराब पीने के कारण उसकी मौत हो गई। सोमवार की दोपहर सरपंच की मौजूदगी में पंचनामा कार्रवाई के बाद शव को पीएम के लिए भेज दिया गया है।

रामनगर थाने के उप निरीक्षक एसएल पयासी ने बताया कि सोमवार की सुबह एक शव मिलने की सूचना थाने आई थी। मौका मुआयना करने के बाद ग्रामीणों ने शव की सिनाख्त नत्थू मुसलमान (48) निवासी गजांस के रूप में की। विवेचक को ग्रामीणों ने बताया कि जहां शव बरामद हुआ है।

वह खेत संजीव सिंह ठाकुर का है। जिसको अधिया में सौखीलाल साकेत लिया है। वह सोमवार की सुबह खेत पहुंचा था तो दुर्गंध आ रही थी। ऐसे में पहले आसपास के ग्रामीणों को पूरा मामला बताया। अंत में डायल 100 और रामनगर पुलिस को अवगत कराया था।

मृतक शराब पीने का था आदी
मृतका की भाभी ने पुलिस को बताया कि वह 26 जून को खूब शराब पी हुई थी। ऐसे में भाभी ने नत्थू की पत्नी को जाकर बताया था। जब वह आई तो वह ​नहीं दिखा। जिससे पत्नी सोची कि कहीं रामनगर दुकान न चले गए हों। जबकि वह वहीं झाड़ियों पर लेट गया। आशंका है कि ज्यादा शराब पीने व मुंह के बल लेटने के कारण उसके प्राण निकल गए थे। जबकि इस पूरे मामले में परिजनों ने युवक की सर्चिंग नहीं की। जिससे दो दिन तक किसी को कोई जानकारी नहीं हुई और वह मर गया।

शरीर में नहीं मिले कोई चोट के निशान
घटनास्थल के निरीक्षण में पुलिस टीम को मृतक के शरीर से कोई चोट के निशान नहीं मिले है। वहीं मृतक के शरीर में पहने हुए कपड़े भी उसी तरह साफ स्वच्छ दिखे। साथ ही कपड़े कहीं भी कटे फटे तक नहीं है। इससे प्रथम दृष्टया मामला शराब पीने के कारण ही समझ में आ रहा है। हालांकि पीएम रिपोर्ट के बाद असली कहानी सामने आएगी। शुरुआत में परिजन हत्या तो पुलिस शराब पीने से मौत मान रही है।

खबरें और भी हैं...