• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Satna
  • The Four Students Got Scared And Landed In Bhusaval, Reached Back To Satna; Police Handed Over To Relatives

मुम्बई घूमने के लिए हॉस्टल से भागे:चारों छात्र डर कर भुसावल में उतरे, वापस पहुंच गए सतना; पुलिस ने परिजनों को सौंपा

सतना7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सतना शहर के जवाहर नगर स्थित शासकीय आवासीय बालक छात्रावास से भागे चारो छात्र सकुशल अपने परिजनों के पास पहुंच गए हैं। सतना पुलिस ने उन्हें सुरक्षित परिजनों के सुपुर्द कर दिया है। ये छात्र मुंबई घूमने के लिए हॉस्टल की दीवार कूद कर भागे थे।

पुलिस के मुताबिक नेता जी सुभाष चन्द्र बोस शासकीय आवासीय छात्रावास से भागे कक्षा 8 के चारो छात्र अपने घर पहुंच गए हैं। पुलिस ने उन्हें उनके माता पिता के पास सुरक्षित पहुंचा दिया है। ये चारों छात्र मुंबई घूमने के लिए 15 और 16 सितंबर की दरमियानी रात हॉस्टल से भागे थे। उन्होंने स्टेशन पहुंच कर मुंबई का टिकट कटवाया और यहां से चित्रकूट एक्सप्रेस में बैठ कर जबलपुर पहुंचे। जबलपुर से वे पवन एक्सप्रेस में सवार हुए और मुंबई रवाना हो गए। इसी बीच उन्हें यह पता लगा कि उनके फोटो सोशल मीडिया पर डालकर पुलिस ने उनकी तलाश शुरू कर दी है। लिहाजा डर कर वे भुसावल में उतर गए और वहां से दूसरी ट्रेन में बैठ कर सतना आ गए।

सतना स्टेशन से सभी अपने अपने घरों के लिए रवाना हुए थे तभी एक छात्र के नागौद बस स्टैंड में होने की सूचना पुलिस को मिली। पुलिस ने वहां से उसे पकड़ा और पूछताछ की। उससे मिली जानकारी के आधार पर एक छात्र को मझगवां और दो को सरला नगर मैहर जाते हुए पकड़ कर सुरक्षित माता पिता के पास पहुंचा दिया।

छात्रों ने पुलिस को बताया कि दो दिन पहले से ही उन्होंने भागने की तैयारी कर ली थी। अपना अपना बैग उन्होंने पैक कर लिया था। रात में जैसे ही मौका मिला वे ताला खोल कर बाहर निकले और दीवार कूद कर स्टेशन पहुंच गए।

चार चारों के हॉस्टल से लापता होने से यहां हड़कंप मच गया था। कलेक्टर ने चौकीदार शुभम सिंह पटेल को टर्मिनेट कर दिया था, जबकि वार्डन को भी सस्पेंड कर दिया गया है। छात्रों के सतना रेलवे स्टेशन में देखे जाने के बाद सतना पुलिस की टीमें जबलपुर और प्रयागराज रवाना कर दी गई थीं। उनका हुलिया सोशल मीडिया पर डाल गया था।

खबरें और भी हैं...