• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Satna
  • When She Reached The Hospital After Deteriorating Her Health, She Came To Know That She Is Pregnant, The Family Said The Government Should Demolish The House Of Our Daughter's Accused.

नाबालिग से दुष्कर्म:तबीयत बिगड़ने पर अस्पताल पहुंची तो पता चला गर्भवती है, परिजन बोले- हमारी बेटी के आरोपी का भी घर गिराए सरकार

सतना15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सतना जिले के रामपुर बाघेलान थाना क्षेत्र में नाबालिग से रेप का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। घटना का खुलासा तब हुआ जब तबियत बिगड़ने पर पीड़िता को अस्पताल ले जाया गया। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है लेकिन पीड़िता के परिजन अभी इस कार्रवाई को नाकाफी मानते हुए दोषी का घर ढहाए जाने की मांग कर रहे हैं।

हासिल जानकारी के मुताबिक रामपुर बाघेलान थाना क्षेत्र की एक 17 वर्षीया नाबालिग के साथ सचिन सिंह बघेल पिता दिनेश सिंह बघेल निवासी महुरछ रामपुर बाघेलान ने 2 माह तक दुष्कृत्य किया। परिजनों को घटना की जानकारी तब हुई जब 2 मई को पीड़िता की तबियत बिगड़ी और पेट मे दर्द होने पर उसे अस्पताल ले जाया गया। रामपुर में इलाज के बाद उसे उसकी बड़ी बहन डॉक्टर के पास सतना लाई तो पता चला कि वह गर्भवती है। बहन ने घर पहुंच कर माता पिता जानकारी दी जिसके बाद पूछताछ में पीड़िता ने आपबीती सुनाई। पीड़िता की मां ने रामपुर थाना पहुंच कर शिकायत दर्ज कराई।

पीड़िता की मां ने पुलिस को बेटी द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार बताया कि आरोपी सचिन सिंह ने उसके साथ दो माह तक दुष्कृत्य किया और किसी को कुछ भी बताने पर जान से मार देने की धमकी दी थी। जिसके कारण वह किसी से कुछ नही कह सकी। पीड़िता ने बताया कि वह 2 मार्च को खेत मे बने पम्प हाउस गई थी जहां अकेला पा कर सचिन ने उसके साथ दुष्कृत्य किया। इसके बाद डरा धमका कर वह कई बार गलत काम करता रहा।

रामपुर थाना पुलिस ने घटना की शिकायत दर्ज करने के कुछ ही घंटों के अंदर आरोपी सचिन सिंह बघेल को गिरफ़्तार कर लिया है। इस मामले में कार्रवाई के लिए सतना एसपी धर्मवीर सिंह ने डीएसपी ख्याति मिश्रा को खासतौर पर रामपुर भेजा था।

हालांकि पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए कुछ ही घंटों में आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है लेकिन परिजन इस कार्रवाई को पर्याप्त नही मान रहे। पीड़िता के पिता का कहना है कि उनकी बेटी के आरोपी पर भी बुल्डोजर एक्शन होना चाहिए।

खबरें और भी हैं...