प्रतिष्ठा महोत्सव प्रारम्भ:जीर्णोद्धारित देवालय में शोभायात्रा के साथ प्रारंभ हुआ प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव

आष्टा9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

नजदीकी गांव मालीखेड़ी में भगवान हनुमान दादा, शिवलिंग और मातारानी की दोबारा प्राण प्रतिष्ठा नवीन देवालय में मालीखेड़ी में 14 अप्रैल से तीन दिवसीय प्रतिष्ठा महोत्सव प्रारम्भ हुआ। सर्वप्रथम कलश यात्रा को पूरे गांव में निकालकर जीर्णोद्धारित खेड़ापति मंदिर पर लाया गया। उसके पश्चात देवताओं की मूर्तियों को तीर्थ के जल में रखकर जलाधिवास कराया गया।

साथ ही यज्ञमंडप का प्रवेश पंचांग पूजन एवं समस्त देवताओं का आव्हान कर स्थापित किया गया। उक्त समस्त वैदिक कार्य आष्टा नगर पुरोहित आचार्य पंडित मनीष पाठक व डॉ दीपेश पाठक के मार्गदर्शन में किया गया। इस प्रतिष्ठा महोत्सव में संपूर्ण गांव की महिलाएं सहित विशाल समूह में ग्रामीणजन उपस्थित थे।

यह हुए वैदिक कार्य
पंडित पाठक ने बताया कि प्रथम दिन हेमाद्रि कर्म प्रायश्चित संकल्प पंचांग पूजन गणेश अम्बिका पूजा मूर्तियों का कर्मकुटी में जलाधिवास, धान्याधिवास आदि कर्म सम्पन्न किए गए। भगवान हनुमानजी, शिवलिंग, माताजी की मूर्तियों की स्थापना की जाएगी। कार्यक्रम में कलश यात्रा शनिवार को निकाली गई। मंडप प्रवेश यज्ञ देवी देवताओं का नित्यार्चन सम्पन्न हुए।

खबरें और भी हैं...