चोरी की दूसरी बड़ी वारदात:शौक पूरा करने के लिए एटीएम तोड़ने वाले को पकड़ा

नसरुल्लागंज7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

महंगा मोबाइल और शराब का शौक पूरा करने के लिए आरोपी ने चोरी की दूसरी बड़ी वारदात की। इसमें आरोपी ने प्राइवेट बैंक के एटीएम को तोड़कर रुपए निकालने का प्रयास किया लेकिन उसका सफल नहीं हो सका। वहीं एक अन्य मामले में आरोपी ने सैनेटरी की दुकान में घुसकर 17 हजार रुपए नकद चुराने के साथ ही दुकान के अंदर तोड़फोड़ की।

इन दोनों वारदातों में बैंक मैनेजर और सैनेटरी दुकान संचालक ने इसकी रिपोर्ट थाने में दर्ज कराई है। इधर पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए सीसीटीवी फुटेज खंगाले और आरोपी की पहचान करते हुए उसे गिरफ्तार कर लिया। यही नहीं उसे न्यायालय में पेश किया गया जहां से उसे जेल भेज दिया गया। जानकारी के अनुसार 13 मई की रात 1.50 बजे के लगभग अज्ञात आरोपी ने भोपाल रोड स्थित ईएसएएफ स्मॉल फाइनेंस बैंक के बाहर लगे हुए एटीएम को तोड़कर उसमें से रुपए चुराने का प्रयास किया गया।

हालांकि इस बात की जानकारी शाखा के ब्रांच मैनेजर अखिल पिल्लई को गुड़गांव सिक्यूरिटी टीम ने फोन पर दी। इसमें उन्होंने एटीएम को तोड़ने का प्रयास किए जाने की बात कही। ब्रांच मैनेजर ने मौके पर जाकर देखा तो एटीएम का फ्रंट लॉक टूटा हुआ था और शटर भी खुली हुई थी। तत्काल इस मामले की शिकायत ब्रांच मैनेजर ने पुलिस को की।

सीसीटीवी से पकड़ में आया आरोपी
एटीएम तोड़ने के प्रयास की बड़ी घटना सामने आने के बाद पुलिस इस मामले में सक्रिय हुई। थाना प्रभारी कंचन सिंह ठाकुर ने एक टीम का गठन किया और एटीएम में लगे हुए सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगालना शुरू कर दिया। फुटेज में जो आरोपी नजर आया वह पुलिस को सीहोर नाका शौचालय के पास दिखाई दिया। आरोपी को वहां से पकड़कर थाने लाया गया। पूछताछ़ करने पर उसने अपना नाम जितेंद्र पुत्र लक्ष्मण सिंह उईके उम्र 18 साल निवासी सुभाष कालोनी बताया।

आरोपी ने पूछताछ में बताया कि उसने रात एक बजे के करीब भोपाल रोड स्थित ईएसएएफ स्मॉल फायनेंस बैंक के एटीएम को पेचकस के माध्यम से तोड़ने का प्रयास किया था। हालांकि इसमें वह सफल नहीं हो सका। आरोपी ने बताया कि महंगे मोबाइल का शौक और शराब की लत को पूरा करने के लिए उसने चोरी को धंधा बना लिया था। आरोपी ने 12 मई को इंदौर रोड स्थित टाइल्स की दुकान के अंदर घुसकर गल्ले में लॉकर में रखे हुए 17 हजार नकद चुराए थे।

खबरें और भी हैं...