• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sehore
  • Collector SP Reached Kubereshwar Dham, Inspected The Arrangements, Preparations Started On War Footing

सीहोर में शिव महापुराण और भव्या गुरू दीक्षा समारोह आयोजित:कलेक्टर-SP पहुंचे कुबेरेश्वर धाम, व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया, युद्ध स्तर पर तैयारियां शुरू

सीहोर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सीहोर में जिला मुख्यालय के पास चितावलिया हेमा स्थित मुरली मनोहर एवं कुबेरेश्नर माहदेव मंदिर में आगामी 6 जुलाई से भव्य शिव महापुराण और 13 जुलाई को भव्य गुरू दीक्षा समारोह का आयोजन किया जाएगा। इस कार्यक्रम में देश ही नहीं बल्कि विदेश से भी श्रद्धालु लाखों की संख्या में आने वाले हैं। जिसे लेकर विठलेश सेवा समिति और प्रशासन सहित अन्य ने समारोह के आयोजन की तैयारियां युद्ध स्तर से शुरू कर दी हैं।

निर्माणाधीन मुरली मनोहर एवं कुबेरेश्वर महादेव मंदिर पहुंचे कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर और पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी ने शहर का नाम अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर रोशन करने वाले भागवत भूषण पंडित प्रदीप मिश्रा सहित यहां पर मौजूद समिति के पदाधिकारियों से आगामी दिनों में होने वाले भव्य आयोजन को लेकर चर्चा की। इस दौरान कलेक्टर स्वयं ही यहां होने वाली कथा स्थल पर पहुंचे और करीब 1000 फीट बने इस भव्य पंडाल का जायजा लिया और संबंधित अधिकारियों को यहां पर आने वाले श्रद्धालुओं के ठहरने, वाहनों के पार्किंग सहित अन्य की समुचित व्यवस्था में पूरा सहयोग देने के निर्देश दिए।

यहां पर मौजूद नगर पालिका सीएमओ संदीप श्रीवास्तव को निर्देश दिए की श्रद्धालुओं के पेयजल व्यवस्था, साफ-सफाई के अलावा शौचालय आदि का इंतजाम किया जाए। इस संबंध में जानकारी देते हुए विठलेश सेवा समिति के मीडिया प्रभारी प्रियांशु दीक्षित ने बताया कि हजारों की संख्या में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए भव्य भोजन शाला के अलावा श्रद्धालुओं के ठहरने आदि की व्यवस्था के अलावा अनेक स्थानों पर वाहनों की पार्किंग की व्यवस्था की गई है।

आगामी छह जुलाई से दोपहर एक बजे से चार बजे तक शिव महापुराण का आयोजन किया जाएगा। बारिश को ध्यान में रखते हुए 1000 फीट लंबाई का पंडाल निर्मित किया गया है। इसके अलावा दो भव्य पंडाल भी आस-पास बनाए गए है। वहीं अन्य पंडालों में आधा दर्जन से अधिक एलईडी के द्वारा भी पुराण का प्रसारण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि जब तक उक्त भव्य आयोजन किया जाएगा। उस दौरान रुद्राक्ष आदि का वितरण नहीं किया जाएगा। रुद्राक्ष वितरण का कार्यक्रम आगामी दिनों तक पूरी तरह बंद है।