• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Seoni
  • Arrived To Give Memorandum From Tractors, Memorandum Submitted To CM Regarding 22 point Demands, Said If Not Agreed, There Will Be A Big Movement

सिवनी के केवलारी में किसानों का प्रदर्शन:ट्रेक्टरों से ज्ञापन देने पहुंचे, 22 सूत्रीय मांगो को लेकर CM के नाम सौंपा ज्ञापन, कहा- नहीं माने तो होगा बड़ा आंदोलन

सिवनी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सिवनी जिले की केवलारी तहसील के अंतर्गत आने वाले उप तहसील उगली जिसमें विधानसभा की कुल 32 ग्राम पंचायतों का समावेश है।दूरस्थ ग्रामीण अंचल अंतिम सीमावर्ती क्षेत्र के किसान, मजदूर युवा वर्ग के लोगों ने क्षेत्र की जनसमस्याओं को लेकर 22 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन महामहिम राज्यपाल और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नाम ट्रैक्टरों के द्वारा पहुंचकर ज्ञापन सौंपा है।

प्राप्त जानकारी के बीते 2 दिन से हो रही बरसात के बावजूद भी पांडिया छपारा, सरेखा, उगली, रुमाल टिकरी, गोरखपुर, सारसडोल, सोनखार मोहबर्रा, खैरी, घुरवाड़ा, ढुटेरा, उगनदी वाड़ा, बनाथर, बाग डोंगरी, नसीपुर दोरेंदा, वाकल, सकरी पांडी वाड़ा विभारी, अरंडिया,रतनपुर और पूरे 64 गांव के लगभग डेढ़ सौ से 200 की संख्या में ट्रैक्टर मालिकों के ने अपने वाहन में बैठकर उगली से केवलारी पहुंचने के बाद भारी पुलिस बल व प्रशासन की उपस्थिति में तहसीलदार हरीश लालवानी और नायब तहसीलदार इमरान मंसूरी को ज्ञापन सौंपने की कार्रवाई की है।

ये हैं मांगें
किसानों ने बताया कि गांव गोरखपुर उगली मार्ग के बीच पुल निर्माण को लेकर अभी बीते कुछ माह पहले त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में बहिष्कार भी किया था, लेकिन शासन प्रशासन का कोई अधिकारी कर्मचारी वहां पर पहुंचकर आश्वासन नहीं दिया।

किसानों की मांगें
मेन रोड से भोरगोंदी पहुंच मार्ग का पक्का निर्माण, बैंक द्वारा किसान गरीब मजदूरों को ऋण संबंधित शाखा प्रबंधक के द्वारा बरसात के समय में ही वसूली के नोटिस देना, बिजली की समस्या जेई के द्वारा घरेलू कनेक्शनों में कमर्शियल का अतिरिक्त चार्ज लगाकर बिजली कर वसूली करना, सोनखार से बावली मार्ग पर जीर्ण शीर्ण पुलिया का जीर्णोद्धार, बिछुवा से रुमाल सड़क निर्माण, रुमाल जलाशय का गहरीकरण, रुमाल जलाशय में आने वाली सभी नहरों का मरम्मत चौड़ीकरण, कंचनवाड़ा से मसान बर्रा सड़क उगली में हाई स्कूल का हायर सेकेंडरी स्कूल में उन्नयन, घूरवाड़ा से खैरी सडक़ मार्ग को पक्का निर्माण, पांडिया छपारा से लामता मार्ग के बीच में पड़ने वाले ढूटी बांध के पहले पड़ने वाली धनई नदी में पुलिया निर्माण और बैन गंगा नदी पर बड़े पुल का निर्माण, जिससे दोनों जिले के मध्य आवागमन से क्षेत्र के विकास में प्रगति होगी।

हिर्री नदी पर उच्च स्तरीय पुल निर्माण
पांडिया छपारा से घीसी सड़क निर्माण कार्य पांडिया छपारा के नजदीक दोरेंदा के मध्य धनई नदी पुल का दुरस्तीकरण, रतनपुर से कातोली के मध्य हिर्री नदी पर उच्च स्तरीय पुल निर्माण, पांडिया छपारा से ढूटी होकर गोकलपुर गांव सड़क निर्माण, बीते 6 माह से सोसाइटी में गेहूं परिवहन ना होने से गेहूं की समस्या से जूझ रहे ग्रामीणों को शीघ्र लाभ मिले, प्रधानमंत्री आवास में उपयोग होने वाली रेत के लिए छूट दी जाए, उप तहसील उगली में तहसीलदार का बैठना तुरंत प्रारंभ किया जाए।

कई संगठन शामिल:- मांगों के लिए क्षेत्र के सभी वर्ग के सभी राजनीतिक दलों के किसानों ने संगठित होकर एकजुटता का परिचय दिया है। ज्ञापन स्वीकारने के बाद तहसीलदार ने आश्वासन दिया कि जितनी भी मांगे ज्ञापन में बताई गई हैं, उन्हें जल्द शासन प्रशासन से जिस भी विभाग में इनको पूरा किया जा सकता है, उसके लिए प्रयास करेंगे।

उग्र आंदोलन की चेतावनी
क्षेत्रीय नेता आनंद भगत के द्वारा बताया गया कि ल चेतावनी दी गई कि अगर एक महीने के अंदर शासन प्रशासन ने हमारी मांगों को स्वीकार नहीं किया, तो हम इससे भी वृहद उग्र आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे। जिसकी संपूर्ण जवाबदारी शासन और प्रशासन की होगी।

खबरें और भी हैं...