परिवहन विभाग की कार्रवाई:परिसर में बस न ले जाने पर वसूला समझौता शुल्क, अन्य चालकों को भी दी समझाइश

अकोदिया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बस स्टैंड परिसर में वाहन न ले जाने वाले बस चालकों के खिलाफ मंगलवार को परिवहन विभाग ने कार्रवाई कर 8 हजार रुपए का समझौता शुल्क भी वसूला है। वहीं अन्य वाहन चालकों को समझाइश दी और चेतावनी दी कि वे भी यदि ऐसा करेंगे तो कार्यवाही की जाएगी।

गौरतलब है बस स्टैंड परिसर में बसे न ले जाते हुए बस चालक अपने वाहन बाहर ही खड़े करते हैं, जिससे यहां जाम की स्थिति बनती है। तो कई बार विवाद की स्थिति भी निर्मित हो चुकी है। गत दिनों अकोदिया पुलिस सहित वरिष्ठ अधिकारियों ने भी इसे लेकर कार्रवाई की थी, लेकिन चंद दिनों के बाद बस चालक फिर अपनी मनमानी पर उतारू हो जाते हैं।

मंगलवार को जिला परिवहन विभाग ने वाहनों की आकस्मिक चेकिंग की गई। चेकिंग के दौरान अकोदिया बस स्टैंड परिसर में बसों के ना जाने पर कार्यवाही की गई। परिवहन अधिकारी ने इस दौरान कार्रवाई करते हुए 8 हजार रुपए का समझौता शुल्क भी वसूल किया गया। इसके बाद उन्होंने अन्य बसों की भी जांच की।

हालांकि, उन्हें इसके बाद चेतावनी और समझाइश देकर छोड़ दिया गया और उन्हें चेताया गया कि यदि दोबारा इस तरह की लापरवाही की गई तो विभागीय कार्यवाही की जाएगी। बस चालकों ने भी अधिकारियों को आश्वासन दिया कि वे नियमों का उल्लंघन नहीं करेंगे।

स्कूल संचालकों को भी थमाए नोटिस

मंगलवार को परिवहन विभाग ने वाहनों की चैकिंग का आकस्मिक अभियान चलाया। इस दौरान परिवहन विभाग ने स्कूली बसों की भी जांच की है। इसके बाद उन्होंने स्कूल संचालकों को नोटिस जारी किए। जिसमें उल्लेख किया गया कि उनके वाहनों का फिटनेस, परमिट, बीमा 20 जून 2022 तक आवश्यक रूप से वैध कराएं। यदि बिना इन कागजातों के कोई भी वाहन पाया जाता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

इस दौरान एक बस वाहन क्रमांक एमपी 09 एफए 2711 बिना परमिट व नियम विरुद्ध संचालित पाये जाने पर जब्त किया जाकर थाना सलसलाई की अभिरक्षा में रखा गया। अधिकारियों ने बताया कि यह कार्यवाही आगामी दिनों में निरंतर जारी रहेगी।

खबरें और भी हैं...