ANM ने की आत्महत्या की कोशिश:अस्पताल के बाबू पर लगाए थे रिश्वत मांगने के आरोप, पढ़ें...पूरा मामला

शाजापुर2 महीने पहले

शाजापुर के जिला चिकित्सालय में ए एन एम के पद पर पदस्थ कृष्णा विश्वकर्मा आज रेलवे स्टेशन पर पहुंच गई, महिला को घबराहट की स्थिति में देखकर जीआरपी पुलिस ने पूछताछ की। महिला स्टेशन पर दो तीन घंटे से बैठी हुई थी और जैसे ही बीना नागदा पैसेंजर आई,वह उठकर ट्रेन के सामने जाने लगी, पुलिस ने महिला को तत्काल रोका और पूछताछ की तो महिला ने बताया उसके पति को कैंसर है और वह ईलाज में बहुत रूपए खर्च कर चुकी। जिला चिकित्सालय से उसे करीबन एक लाख पचास हजार रुपए मिलना है लेकिन वहां पदस्थ बाबू दस हजार रुपए के लिए उसके रूपए नहीं निकाल रहा। बाबू ने अन्य कर्मचारियों की राशि निकाल दी लेकिन मेरी नहीं निकाल रहे। बाबू को रिश्वत के दस हजार रुपए देने के लिए नहीं है, इसलिए उसे कान से सोने के टॉप्स निकाल कर दे दिए। मेरी मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी, इसलिए रेलवे स्टेशन पर चली आई। रेलवे स्टेशन पर पदस्थ जीआरपी प्रभारी ने बताया एक 60 वर्षीय महिला आत्महत्या के उद्देश्य से आई हुई थी,जिसे हमारे आरक्षक ने देखा और मुझे सूचना दी। हमने महिला के पति को स्टेशन बुलवाया और समझाइश देकर घर भिजवाया।

बाबू पर रिश्वत मांगने के आरोप लगाएं

महिला ने जिला अस्पताल में पदस्थ एक बाबू पर रिश्वत मांगने के आरोप लगाएं और बताया मेरे पति को कैंसर है और रुपए की आवश्यकता होने पर मेरे खाते में जमा रूपए निकालने के लिए बाबू रिश्वत मांग रहा था। मेरे रूपए बाबू ने नहीं निकाले और अन्य लोगों के रूपए निकाल दिए।

खबरें और भी हैं...