मारपीट के 9 आरोपियों को 3 साल की सजा, जुर्माना:पुलिस हवलदार के साथ मारपीट व शासकीय कार्य में बाधा का था मामला

करैरा7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

करैरा के अपर सत्र न्यायाधीश ने पुलिस हवलदार के साथ मारपीट व शासकीय कार्य में बाधा पहुंचाने के मामले की सुनवाई करते हुए 9 लोगों को दोषी करार देते हुए 3 साल का सश्रम कारावास एवं 3 हजार 500 रुपए के जुर्माने से दंडित किया है। मामले की पैरवी एजीपी धनंजय पांडेय द्वारा की गई। अभियोजन पक्ष से मिली जानकारी के अनुसार फरियादी ताराचंद्र पुलिस हवलदार 2 अगस्त 2016 को दोपहर 23.35 बजे कुचलौन तिराहे पर पहुंचा तो वहां बस खड़ी हुई थी।

इसके बाद बस चालक बस को ले जाने लगा तभी आरोपी कुलदीप परमार, नातीराजा, यशवंत, सोबरन सिंह, बंटी राजा, राजदीप परमार, पुष्पेंद्र सिंह परमार, दीपेंद्र सिंह परमार व डग्गीराजा ने हवलदार को जमीन पर पटककर पत्थर व लाठियों से मारपीट की। इससे उनके दांतों सहित अन्य जगह गंभीर चोटें आई थी। पुलिस ने हवलदार की रिपोर्ट पर आरोपियों के खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा, मारपीट व बलवा सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर चालान न्यायालय में पेश किया। इस मामले की सुनवाई करते हुए न्यायाधीश ने 9 आरोपियों को दोषी करार देते हुए यह फैसला सुनाया है।

खबरें और भी हैं...