• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Shivpuri
  • Arms License Will Be Canceled For Those Who Do Not Return The Loan Of Cooperative Bank, List Of 298 Borrowers Is Ready

सख्ती की तैयारी:सहकारी बैंक का कर्ज नहीं लौटाने वालों का शस्त्र लाइसेंस होगा निरस्त, 298 कर्जदारों की सूची तैयार

शिवपुरी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिला केंद्रीय सहकारी बैंक (सीसीबी) बकाया रकम जमा नहीं कराने वालाें पर सख्ती की तैयारी कर चुका है। बैंक से कर्ज लेकर जमा नहीं कराने वाले कालातीत (अाेवरड्यू) खाता धारकों में से शस्त्रधारियों के शस्त्र लाइसेंस निरस्त कराने की तैयारी चल रही है। सहकारी बैंक ऐसे 298 खाताधारकों को चिह्नित भी कर चुका है। खतौरा शाखा को छोड़कर शेष सभी शाखाओं से शस्त्र लाइसेंसधारी बकायादारों की सूची आ चुकी है। शस्त्र लाइसेंस निरस्ती का प्रस्ताव बनाकर कलेक्टर को भेजने की तैयारी चल रही है।

सहकारी बैंक ने 42 हजार 500 कालातीत खाता धारकों में से 298 ऐसे खाता धारक ढूंढ निकाले हैं जिनके शस्त्र लाइसेंस हैं। इन कालातीत खाता धारकों पर 2.56 करोड़ रुपए का कर्ज है जो यह लाेग नहीं लौटा रहे हैं। इसमें 1 करोड़ 66 लाख मूल रकम है जबकि 87 हजार रुपए ब्याज है। खतौरा शाखा की सूची आने के बाद शस्त्र लाइसेंस से संबंधित 300 से अधिक खाता धारक सामने आ जाएंगे। इन सभी के लाइसेंस निरस्त कराने का प्रस्ताव बनाकर कलेक्टर को भेजा जाएगा। कलेक्टोरेट की आर्म्स शाखा से संबंधित के लाइसेंस निरस्ती की कार्रवाई चलेगी।

कांग्रेस सरकार की कर्जमाफी की वजह से अटका कर्ज
साल 2018 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी ने किसानों के लिए दस दिन के भीतर कर्जमाफी का मुद्दा रखा था। कांग्रेस सत्ता में तो आ गई है, लेकिन कर्जमाफी में काफी वक्त लगा लिया और राजनैतिक समीकरण बदलने से भाजपा की सत्ता में वापसी हो गई। इस वजह से कांग्रेस सरकार की कर्जमाफी योजना के कारण अधिकतर किसानों ने बैंक से कर्ज लेकर नहीं लौटाया और सभी खाते कालातीत हो गए। 42500 कालातीत खाता धारकों पर 175 करोड़ रुपए का कर्ज है जिस लाेग जमा नहीं करा रहे।

आर्थिक रूप से संपन्न और पूर्व जनप्रतिनिधि भी कर्ज नहीं लौटा रहे
कर्ज लेकर पैसा नहीं लौटाने वाले बंदूक लाइसेंस धारियों में अधिकतर आर्थिक रूप से सम्पन्न हैं। बंदूक रखने का शौक रखते हैं, लेकिन बैंक का कर्ज लौटाने तैयार नहीं हैं। पूर्व जनप्रतिनिधि भी कर्ज का पैसा नहीं लौटा रहे हैं।इजिनमें पूर्व सरपंच भारत सिंह पुत्र रामजीलाल निवासी भौराना 1.21 लाख रु., पूर्व जनपद सदस्य जालिम सिंह पुत्र वचनलाल बामौर 98 हजार रु., किसान मोर्चा कुलदीप सिंह पुत्र सरदा सिंह बांसखेड़ी 1.20 लाख रु. आदि शामिल हैं।

आर्थिक रूप से संपन्न और पूर्व जनप्रतिनिधि भी कर्ज नहीं लौटा रहे
कर्ज लेकर पैसा नहीं लौटाने वाले बंदूक लाइसेंस धारियों में अधिकतर आर्थिक रूप से सम्पन्न हैं। बंदूक रखने का शौक रखते हैं, लेकिन बैंक का कर्ज लौटाने तैयार नहीं हैं। पूर्व जनप्रतिनिधि भी कर्ज का पैसा नहीं लौटा रहे हैं।इजिनमें पूर्व सरपंच भारत सिंह पुत्र रामजीलाल निवासी भौराना 1.21 लाख रु., पूर्व जनपद सदस्य जालिम सिंह पुत्र वचनलाल बामौर 98 हजार रु., किसान मोर्चा कुलदीप सिंह पुत्र सरदा सिंह बांसखेड़ी 1.20 लाख रु. आदि शामिल हैं।

लाइसेंस निरस्ती का प्रस्ताव कलेक्टर काे भेजेंगे
"कालातीत खाता धारकों में से शस्त्र लाइसेंस धारियाें की सूची तैयार कराई है। खतौरा शाखा की सूची और मिलते ही लाइसेंस निरस्ती का प्रस्ताव भेज देंगे। बकाया राशि जमा कराने के लिए कलेक्टर के निर्देश में कार्रवाई चल रही है।" - अरस्तु प्रभाकर, सीईओ, जिला केंद्रीय सहकारी बैंक शिवपुरी

खबरें और भी हैं...