शराबी पति की बलि चढ़ी बेबस पत्नी:मारपीट मनमानी सहते सहते 2 बच्चों के साथ कुएं में कूद गई

शिवपुरी14 दिन पहले

शिवपुरी के भौंती थाना क्षेत्र के महोबा के मजरा रठनपुर में हृदय विदारक घटना सामने आई। जिसमें ससुराल वालों से प्रताड़ित होकर 31 वर्षीय महिला संध्या कुशवाह ने अपनी 8 वर्षीय बेटी नीतू और 5 वर्षीय पुत्र प्रवेश के साथ कुएं में छलांग लगाकर आत्महत्या कर ली थी। मामले को दबाने के लिए ससुराल वालों ने खूब कोशिश की। मृत महिला के परिजनों ने मामले का खुलासा किया है। जिसमें कई संगीन आरोप मृतक महिला के परिजनों ने ससुराल वालों पर लगाए है।

पति करता था प्रताड़ित

2 बच्चों के साथ कुएं में कूदकर जान देने वाली महिला के भाई देवेंद्र कुशवाह ने बताया कि उसकी बहन की शादी 2012 में हुई थी। शादी के 2-3 माह बीतने के बाद ही उसका पति नशे के हाल में उसकी बहन से मारपीट करने लगा। शादी के बाद ही एक मामला पूर्व में भी अपने जीजाजी पर केस दर्ज कराया था। जिसके बाद दबाव में आकर बहन को घर ले गया लेकिन नशे की हालत में उसकी बहन को लगातार प्रताड़ित करता रहा। इस बीच उसके यहां एक बेटा और एक बेटी भी हुई। महेंद्र ने बताया कि सभी ने सोचा था कि घर की बेटी का जीवन सुख-चैन से कट जाएगा लेकिन पति की प्रताड़ना बंद नहीं हुई, वह हर रोज उसकी बहन के साथ मारपीट करता रहता था और बहन चुपचाप सहती-रहती थी।

भाई की शादी साली से कराना चाहता था

बड़ी बहन संध्या की छोटी बहन की सगाई करैरा के युवक की है। जिसकी शादी 31 मई को होना तय हुआ है। शादी तय होने की बात जब दामाद पवन को लगी तो वह भड़क गया। उसने अपने ससुराल में फोन लगाकर साली की शादी का विरोध किया और होने वाले साडू को अपने बुआ के लड़के खड़क सिंह से मरवा डालने की बात कहीं। जब मृतिका के परिजनों ने अपने दामाद पवन की बात नहीं मानी तो पवन आक्रोश में आ गया और उसने अपनी पत्नी से जमकर मारपीट कर दी और घर से चला गया। पति और पत्नी के बीच क्या घटनाक्रम हुआ इसके गवाह उन दोनों के बच्चे थे लेकिन पति प्रताड़ना से तंग आकर संध्या अपने दोनों बच्चों के साथ कुएं में कूद गई और अपनी जान दे दी।

पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल का कहना है पीएम रिपोर्ट के आधार पर मृतिका और दोनों बच्चों की मौत पानी में डूबने के कारण हुई है। मामला दर्ज कर लिया गया है मृतिका के परिजनों के बयान लिए जा रहे है। मामला विवेचना में है।