• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sidhi
  • Parihar Becomes Kickboxing Coach At The Age Of 20, Will Be Given State Coach Diploma Certificate

विक्रांत सिंह परिहार ने सीधी का नाम किया रोशन:20 साल की उम्र में किकबॉक्सिंग के कोच बने परिहार, राज्य कोच डिप्लोमा प्रमाण-पत्र दिया जाएगा

सीधी3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विक्रांत सिंह परिहार - Dainik Bhaskar
विक्रांत सिंह परिहार

कहते हैं पढ़ोगे-लिखोगे तो बनोगे नवाब, खेलोगे-कूदोगे तो होगे खराब। लेकिन आज के दौर में यह कहना अप्रासंगिक हो गया है। अब पढ़ाई-लिखाई के साथ ही खेल-कूद भी करियर का अहम हिस्सा हो गया है। लोग न सिर्फ मनोरंजन के लिए बल्कि बतौर करियर भी खेल को चुनने लगे हैं। छोटे-छोटे शहरों के बच्चे भी अब खेल में नाम कर रहे हैं। ऐसा ही एक नाम है, विक्रांत सिंह परिहार का। विक्रांत ने अपने जिले सीधी का नाम रोशन किया है। 20 साल की उम्र में ही वो किकबॉक्सिंग के कोच बन गए हैं।

विक्रांत सिंह परिहार सीधी जिले के निवासी हैं जो कि पिछले 8 सालों से निरंतर मार्शल आर्ट्स का प्रशिक्षण लेते आ रहे हैं एवं Taekwondo खेल विधा में उनका उच्च स्तरीय प्रदर्शन रहा है। केवल मार्शल आर्ट्स ही नहीं अपितु कई अन्य खेल विधाओं जैसे- भारोत्तोलन, hammer थ्रो (तार गोला फेंक), हैंड बॉल, बास्केटबॉल इत्यादि में भी इन्होंने निपुणता हासिल की है।

राज्य किकबॉक्सिंग ट्रेनिंग कैंप आयोजित

बता दें कि वाको इंडिया किकबॉक्सिंग फेडरेशन को खेल मंत्रालय, भारत सरकार से मान्यता मिलने के बाद पहली बार वाको एमपी, किकबॉक्सिंग एसोसिएशन ऑफ मध्य प्रदेश के तत्वावधान में इंदौर जिला किकबॉक्सिंग एसोसिएशन द्वारा किकबॉक्सिंग कोच प्रशिक्षण शिविर का आयोजन संपन्न हुआ। किकबॉक्सिंग एसो. ऑफ मध्य प्रदेश के सचिव मनीष आर्य ने बताया कि शिविर में मध्य प्रदेश राज्य के विभिन्न जिलों के किकबॉक्सिंग कोच ने भाग लिया। किकबॉक्सिंग हाई एटीट्यूड प्रशिक्षण शिविर में मास्टर सईद आलम ने किकबॉक्सिंग के सभी इवेंट्स की थ्योरी और प्रैक्टिकल अभ्यास काराया। कोचेस को एडवांस स्किल सीखने का मौका मिला, जिससे वह अपने जिलों के खिलाड़ियों को बेहतर ट्रेनिंग दे सकेंगे।

विक्रांत सिंह परिहार को राज्य कोच डिप्लोमा प्रमाण-पत्र प्रदान किया
इस दौरान किकबॉक्सिंग विनोद सोंडवले एवं अब्दुल राशिद ने अलग-अलग इवेंट की ट्रेनिंग दी। शिविर के आखिरी चरण में कोचेस परीक्षा आयोजित हुई। इसमें सीधी से विक्रांत सिंह परिहार, रीवा से लकी प्रसाद पटेल, इंदौर से जावेद हुसैन, आयुष मौर्य तथा प्रियंका कांबले ने सफलता अर्जित की। साथ ही सफल कोचेस को राज्य कोच डिप्लोमा प्रमाण-पत्र प्रदान किया गया।

खबरें और भी हैं...