रामपुर नैकिन में डॉक्टर के क्लीनिक में युवक की मौत:परिजनों ने लगाया गलत उपचार का आरोप, पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर जांच

सीधी5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सीधी। झोलाछाप डॉक्टर के क्लीनिक में उपचार के दौरान मधुमक्खी के काटने से गंभीर रूप से जख़्मी युवक की मौत हो गई। जिस के तत्काल बाद ही परिजनों ने गलत उपचार का आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया। सूचना मिलने पर रामपुर नैकिन थाना पुलिस ने मर्ग कायम कर युवक के शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद लाश परिजनों को सौंप दी गई।

मिली जानकारी के अनुसार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रामपुर नैकिन अंतर्गत ग्राम पड़खुरी निवासी श्रीनिवास केवट पिता रामसहाय केवट को रविवार दोपहर करीब 1:30 बजे गांव में ही मधुमक्खियों के झुंड ने हमला कर गंभीर रूप से जख्मी कर दिया था। स्थानीय लोगों की मदद से उसे किसी तरह घर पहुंचाया गया। परिजनों उसे गांव के ही डॉक्टर प्रदीप कुशवाह के क्लीनिक में उपचार कराने के लिए ले गए। इस दौरान डॉक्टर ने इंजेक्शन के साथ ही उसे बॉटल भी लगाया।

उपचार के दौरान की रविवार की रात करीब 8:30 बजे जख्मी श्रीनिवास केवट की डॉक्टर के क्लीनिक में ही मौत हो गई। जिसके बाद परिजनों ने डॉक्टर पर गलत उपचार करने का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा करना शुरू कर दिया गया। मौके पर पहुंचे ग्रामीणों द्वारा भी गलत उपचार करने का आरोप लगाए गए।

आरोपों में कहा गया कि डॉक्टर मनमानी तौर पर उपचार करते है। थाना प्रभारी अशोक पाण्डेय का कहना है की पडख़ुरी निवासी श्रीनिवास केवट की गलत उपचार से मौत होने का मामला सामने आने पर रामपुर नैकिन थाना में मर्ग कायम कर शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद आज परिजनों को सौंप दिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद उचित कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी।

खबरें और भी हैं...