कोरोना की मार:सिंगरौली जिले में मेला स्थगित, तैयारियों पर खर्च हुए थे लाखों रुपए

सिंगरौली6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो

कोरोना की तीसरी लहर में कोविड एक्टिव मामलों में हो रही वृद्धि के कारण सरकार ने कई प्रतिबंध के आदेश दिए हैं। जिसका असर व्यवसायिक, सामाजिक संस्थानों पर पड़ रहा है। वहीं धार्मिक आयोजन भी इससे अछूते नहीं हैं। सिंगरौली जिले के ऐतिहासिक लोहड़ी मेले पर भी कोरोना की मार पड़ी है।

जिले के कई स्थानों पर लगने वाला लोहड़ी मेला इस बार नहीं सजेगा। जिला प्रशासन ने आदेश जारी कर मेले पर रोक लगा दी है। जिले के मजौना, कचनी, सरई में प्रतिवर्ष लोहड़ी मेले का आयोजन किया जाता है, जिसमें कई क्षेत्रों के लोग शामिल होते है।

लाखों का होगा नुकसान

दूसरे राज्यों के व्यापारी भी इस मेले में व्यापार करने आते हैं। व्यापारियों के अनुसार मेले के लिए कई दिनों से तैयारियां चल रही थी और उसमें लाखों रुपये खर्च हो चुके थे, लेकिन कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जिला प्रशासन को सख्त रुख अपनाना पड़ा।

जिले में कोरोना की स्थिति

सिंगरौली जिले में लगातार कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है। स्वास्थ्य विभाग के जारी रिपोर्ट के मुताबिक जिले में गुरुवार को 11 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले है। जिले में कुल 36 एक्टिव केस है। वहीं बीते दिन 733 लोगों का कोरोना जांच के लिए सैंपल लिए गए हैं।

खबरें और भी हैं...