• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Singrauli
  • Ganja Was Being Brought To Singrauli, For Fear Of Being Caught, The Car Was Mounted On The Procession, 1 Died

MP के तस्करों ने CG में 27 को उड़ाया:सिंगरौली ला रहे थे गांजा, पकड़ाने के डर से जुलूस पर चढ़ा दी कार, 1 की जान ली

सिंगरौली7 महीने पहले

छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में एक दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है। यहां एक कार ने धार्मिक जुलूस में शामिल लोगों को उड़ा दिया। तेज रफ्तार कार लोगों को कुचलती हुई गुजर गई। घटना जशपुर के पत्थलगांव की है। यहां करीब 150 लोग जुलूस की शक्ल में दुर्गा विसर्जन के लिए जा रहे थे। कार की टक्कर से 1 व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि 26 लोग घायल हो गए। घायलों में 4 की हालत गंभीर है। तस्कर कार में गांजा भरकर ओडिशा से मध्य प्रदेश के सिंगरौली आ रहे थे। घटना के बाद लोगों ने कार को आग के हवाले कर दिया। वहीं, पुलिस ने आरोपियों को दबोच लिया है।

पुलिस ने आरोपी बबलू और शिशुपाल को पकड़ लिया है।
पुलिस ने आरोपी बबलू और शिशुपाल को पकड़ लिया है।

मिली जानकरी अनुसार लोगों को कुचलने वाले तस्कर सिंगरौली जिले के बैढ़न के रहने वाले हैं। हादसे में मरने वाले की पहचान गौरव अग्रवाल के रूप में हुई। वहीं, पत्थलगांव एसडीओपी का कहना है कि घटना को अंजाम देने वाले दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इनकी पहचान बैढ़न के रहने वाले बबलू पुत्र राधेश्याम विश्वकर्मा और बरगवान का रहने वाला शिशुपाल पुत्र रामजन्म साहू के रूप में हुई है। वहीं, हादसे में गौरव अग्रवाल की मौत हो गई है। हादसे के बाद गुस्साए लोगों ने कई गाड़ियों में आग लगा दी और ड्राइवर की जमकर पिटाई कर दी।

इस प्रकार से कार में गांजा भर रखा था।
इस प्रकार से कार में गांजा भर रखा था।

पत्थलगांव थाने का एक ASI सस्पेंड
लोगों ने एक ASI केके साहू पर गांजा तस्करी कराने का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि आरोपी इस ASI के साथ मिलकर ही गांजा तस्करी करने की फिराक में था। इसलिए हम ASI के खिलाफ भी कार्रवाई की मांग करते हैं। लोगों ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। इसके बाद पत्थलगांव थाने के ASI को निलंबित कर दिया गया।​​​​​​

लोगों को टक्कर मारने वाली कार को आग के हवाले कर दिया।
लोगों को टक्कर मारने वाली कार को आग के हवाले कर दिया।

हादसे के बाद गुमला-कटनी हाईवे जाम
लोगों ने घटना के विरोध में पत्थलगांव थाने का घेराव कर दिया। इसके अलावा गुमला-कटनी नेशनल हाईवे पर मृतक का शव रखकर चक्काजाम भी किया। उन्होंने पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। आरोपियों की गिरफ्तारी होने तक वे शव को हाईवे से हटाने तैयार नहीं हुए।

घटना से गुस्साए लोगों ने कार के ड्राइवर की जमकर पिटाई की।
घटना से गुस्साए लोगों ने कार के ड्राइवर की जमकर पिटाई की।

100 किमी से ज्यादा की रफ्तार से दौड़ी कार
प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि कार की स्पीड 100 से 120 रही होगी और उसने सीधे लोगों को ठोकर मार दी। इस हादसे में कई लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। लोगों का यह भी कहना है कि घटना में गांजा तस्करी करने वाले लोगों का हाथ है। उन्होंने ही दुर्गा विसर्जन में शामिल लोगों को कार से टक्कर मारी है।