तहसीलदार ने किया निरीक्षण:बच्चों ने बताया- नहीं मिलता मेन्यू अनुसार भोजन

महाराजपुर19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

तहसीलदार ने नाथपुर के प्राइमरी व मिडिल स्कूल का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान मध्याह्न भोजन में कई तरह की अनियमितताएं व अव्यवस्थाएं मिली। निरीक्षण के समय बच्चों को मध्याह्न भोजन दिया जा रहा था। जिसमें मेन्यू अनुसार भोजन न दिया जाकर पूड़ी और आलू की सब्जी दी जा रही थी। जबकि मेन्यू अनुसार मिक्स दाल, हरी सब्जी, पराठा और सलाद दी जानी चाहिए थी। बच्चों ने बताया कि अक्सर आलू की सब्जी और रोटी ही दी जाती है। कई बार ताे भोजन दिया ही नहीं जाता है।

कुछ बच्चों ने बताया कि हेडमास्टर द्वारा घर से टिफिन लाने के लिए कहा जाता है, क्योंकि मध्याह्न भोजन समूह संचालक किरण नायक द्वारा कई बार भोजन नहीं दिया जाता है। बच्चों ने तहसीलदार को बताया कि खाने के बाद बर्तन धुलवाए जाते हैं। जबकि यह जिम्मेदारी समूह संचालक की होती है। भोजन पंजी में अधिक बच्चों की उपस्थिति दर्ज कराकर कम छात्रों का भोजन बनाया जाना पाया गया। यह बात हेडमास्टर ने भी स्वीकार की।

हेडमास्टर द्वारा भोजन पंजी में नामजद छात्रों की प्रविष्टि एवं मेन्यू अनुसार भोजन का उल्लेख नहीं किया जाता है। तहसीलदार ने हेडमास्टर भागीरथ से कैश बुक, चेक बुक, अन्य पंजी की जानकारी मांगी तो हेडमास्टर ने बताया कि घर पर रखी है। निरीक्षण के दौरान स्कूल में पानी की समस्या भी मिली। इस संबंध में तहसीलदार सुनील वर्मा ने पीएचई इंजीनियर से मौके पर दूरभाष पर चर्चा कर त्वरित रूप से पानी की समस्या का निदान के लिए निर्देशित किया।

खबरें और भी हैं...