अजितनाथ भगवान का किया अभिषेक:मुनिश्री विनम्र सागर सहित 5 मुनिराज पहुंचे बंधा जी

टीकमगढ़9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बंधा जी पहुंचे मुनि संघ। - Dainik Bhaskar
बंधा जी पहुंचे मुनि संघ।

अतिशय क्षेत्र बंधा में मंगलवार को मुनिश्री विनम्र सागर महाराज सहित पांच मुनिराजों का आगमन हुआ। स्थानीय समाज एवं क्षेत्रीय समाज द्वारा पंच मुनिराजों की अगवानी की गई। सुबह 6 मुनि संघ का बम्होरी से अतिशय क्षेत्र बंधा के लिए विहार हुआ। 8 बजे मुनि संघ बंधा पहुंचे। मुनिश्री विनम्र सागर महाराज के साथ निस्वार्थ सागर, निर्मद सागर, निसर्ग सागर और श्रवण सागर ने बंधा जी पहुंचकर मंगलवार को सुबह 8.45 भौंयरे बाबा के दरबार में श्रीजी का अभिषेक एवं शांति धारा की।

9.15 बजे मुनि संघ मूल मंदिर स्थित मंच पर विराजमान हुए। मुनिश्री विनम्र सागर महाराज ने प्रथम दिन अपने प्रवचन के माध्यम से कहा कि हम सूर्य के प्रकाश में वस्तुओं को देखते हैं, तो ठीक है, किसी ने सूर्य का प्रकाश देखा होगा, तो बताइए किस ने सूर्य के प्रकाश को देखा। सूर्य के प्रकाश को आपने नहीं देखा। फिर आपने कभी सुना है कि सूर्य के प्रकाश में 7 रंग होते हैं, यह रंग खुले आसमान में दिखाई नहीं देते। इसके लिए टूल (प्रिज्म) चाहिए। इसी टूल (प्रिज्म) के माध्यम से हम उन सात रंगों को देखते हैं।

मुनिश्री ने कहा कि आचार्य श्री के आशीर्वाद से आज अजितनाथ भगवान के दरबार में अजितनाथ के पांच टूल आ गए हैं। हम लोगों को आचार्य भगवन ने यहां भेजा है। हम मुनिराज आपके बुलाने से नहीं आए हैं। मुनिश्री ने कहा कि बंधा जी के अजितनाथ भगवान के अतिशय गुरुजी ने अपने प्रवास के दौरान बताए थे। वास्तव में बंधा जी वाले बाबा महान अतिशय कारी एवं चमत्कारी हैं।

सिर्फ आप लोगों को अपने आप को पूर्ण रूप से समर्पित करना है। अपने आप को भगवान के श्री चरणों में लगाना है। फिर देखना आप लोग बंधा जी वाले अजितनाथ बाबा कितने चमत्कारी हैं। बंधा जी में रोजाना 7.30 बजे से श्रीजी का अभिषेक एवं शांति धारा होगी। 8.15 बजे से मुनिश्री के मांगलिक प्रवचन होंगे।

खबरें और भी हैं...