आगर-मालवा जिले में बर्ड फ्लू की आशंका:33 कौए मिले मृत, जांच के लिए सैंपल भोपाल भेजे; पिछले साल भी हुई थी मौत

एक वर्ष पहले

मध्यप्रदेश के आगर मालवा जिले में करीब एक साल बाद फिर से बर्ड फ्लू की दस्तक की आशंका बनी है। जिला मुख्यालय पर एक साथ एक दिन में 33 कौवे मृत पाए गए हैं। अचानक बड़ी संख्या में कौओं की मौत की जानकारी लगने पर हड़कंप मच गया। इसके बाद नपा प्रशासन और पशु स्वास्थ्य विभाग ने मृत कौओं के सैंपल लेकर जांच के लिए भोपाल भेजा है।

आगर मालवा जिला मुख्यालय पर विभिन्न इलाकों में बड़ी संख्या में मृत कौए के मिलने के बाद स्थानीय जागरूक लोगों ने इसकी सूचना नगर पालिका को दी। सूचना मिलने पर नगर पालिका के स्वच्छ्ता निरीक्षक बसंत डुगलज मौके पर पहुंचे और मृत कौओं को अमले से इकट्‌ठा करवाया गया।

कौओं को दफनाने के लिए ले जाता सफाईकर्मी।
कौओं को दफनाने के लिए ले जाता सफाईकर्मी।

साथ ही पशु स्वास्थ्य विभाग द्वारा भी जांच की जा रही है कि आखिर एक साथ इतने कौओं की मौत कैसे हुई है। फिलहाल एक मृत कौए का सैंपल लेकर भोपाल लैब में जांच के लिए भेजा गया है। नपा के स्वच्छ्ता निरीक्षक के अनुसार अभी तक करीब 33 कौए मृत मिले हैं बाकी कई मरणासन्न हालात में भी मिले हैं। मृत कौओं को ट्रेचिंग ग्राउंड में गड्ढा खोदकर दफन किया जा रहा है।
दूसरी जगहों पर भी सर्चिंग

साथ ही बाकी इलाके की भी सर्चिंग की जा रही है। जिन इलाकों में कौए मृत मिले हैं। जिला मुख्यालय के उन्हीं इलाकों में पिछले साल दिसंबर और इस साल जनवरी में सैकड़ों कौए व बगुलों की मौत बर्ड फ्लू के कारण हुई थी।