पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

नाराजगी:3 दिन से नहीं तुला गेहूं तो आक्रोशित हुए किसान

आगर मालवा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • तहसीलदार की समझाइश पर माने, किसानों का आरोप- 3 दिन पहले निपानिया से भेजा गया था छावनी

मार्केटिंग सोसायटी द्वारा राजेंद्र काॅटन प्रेस छावनी में बनाए गए खरीदी केंद्र पर समर्थन मूल्य में गेहूं बेचने आए किसानों के जब 3 दिन हो जाने पर भी गेहूं नहीं तुले तो किसानों आक्रोशित हो गए। नाराज किसानों ने खरीदी केंद्र के मैन गेट का ताला लगाकर नारेबाजी की। किसानों द्वारा ताला बंदी किए जाने की सूचना मिलते ही पहुंचे तहसीलदार आशीष अग्रवाल, थाना प्रभारी हितेश पाटील व आरआई मनीष सिंह तिवारी के साथ केंद्र पर पहुंचे और किसानों को समझा-बुझाकर ताला खुलवाया। शाम को बारदान आने के बाद खरीदी शुरू हुई। मार्केटिंग सोसायटी द्वारा पहले निपानिया बैजनाथ स्थित वेयर हाउस पर खरीदी केंद्र बनाया गया था तथा वहीं खरीदी की जा रही थी, लेकिन वेयर हाउस फुल हो जाने के कारण किसानों को 19 मई को राजेंद्र काॅटन प्रेस छावनी भेज दिया गया। निपानिया वेयर हाउस पर भी बारदान खत्म होने के कारण किसानों की उपज नहीं ताैली जा रही थी। काटन प्रेस छावनी आए इन किसानों की उपज बारदान खत्म होने के कारण नहीं ताैली जा रही थी। कई किसानों का कहना था कि जो प्रभावी लोग हैं उनकी उपज तो खरीदी केंद्र के कर्मचारी ताैल रहे हैं, बाकी किसानों से कहा जा रहा है कि बारदान नहीं है। किसानों का यह भी कहना था कि किसानों को टोकन भी नहीं दिए जा रहे थे। किसान संघ के जिला मीडिया प्रभारी प्रमोद जोशी ने बताया किसानों ने गुरुवार को जब अधिकारियों से बात की तो सोसायटी के कर्मचारियों ने किसानों को टोकन दिए। लगातार तीन दिन से उपज बेचने के इंतजार में खड़े किसानों की सब्र का बांध टूटा तो बड़ी संख्या में ये सभी लोग काॅटन प्रेस के मैन गेट पर आ गए और वहां ताला जड़कर नारेबाजी करने लगे। एक घंटे तक किसानों ने मुख्य गेट पर प्रदर्शन किया। किसानों को समझाने आए तहसीलदार को किसानों ने बताया भोपाल से जो आदेश आया है उसमें लिखा है कि 14, 15 मई को जिन किसानों के पास मैसेज आ चुके है उनकी उपज 20 तारीख तक तुलाई जाए अन्यथा उनके बिल नही बनेंगे। इसी प्रकार 16, 18 व 19 मई को जिन किसानों को मैसेज मिले हैं उनकी उपज आवश्यक रूप से 21 मई तक ताैली जाए। किसानों का कहना था कि जब बारदान नहीं है तो उपज ताैली नहीं जा रही है। हमारी उपज की खरीदी कैसे होगी तथा बिल बनेंगे या नहीं और राशि का भुगतान कब होगा। तहसीलदार ने किसानों को भरोसा दिलाया कि सभी किसानों की उपज ताैली जाएगी तब जाकर किसान माने। किसानों के प्रदर्शन के बाद शाम को करीब 5 हजार बारदान केंद्र पर आए। उसके बाद खरीदी शुरू हुई। ग्राम रोझाना खरीदी केंद्र पर गेहूं बेचने आए किसान जितेंद्र व्यास का कहना था कि हमारे केंद्र पर भी तीन तीन दिन से लोग खड़े हैं। बारदान की कमी के चलते यहां भी उपज नहीं ताैली जा रही है। बुधवार को झलारा खरीदी केंद्र पर पहुंचे किसानों ने गेहूं की खरीदी न होने से नाराज होकर उज्जैन कोटा हाइवे पर चक्काजाम कर दिया था।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें