जिम्मेदारों की अनदेखी:10 लाख रुपए की लागत से बनाई सीसी रोड 18 माह में ही उखड़ी

बेरछा9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • नालियां भी हुई नदारद, टैक्स के रूप में चुकाए रुपए भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ते देख रहवासियों दिया शिकायती आवेदन

जिले को भोपाल से जोड़ने वाली बेरछा ग्राम पंचायत के विकास निर्माण कार्यों में जिम्मेदारों की अनदेखी का हर्जाना क्षेत्र के लोगों को भुगतना पड़ रहा है, क्योंकि जनता के लाखों रुपए का टैक्स के रूप में माेटी राशि निर्माण कार्यों में लगाई जा रही है, लेकिन गुणवत्तायुक्त कार्य कराने के बजाए इसकी अनदेखी कर दी गई।

नतीजा यह हुआ कि क्षेत्र के लोगों द्वारा सालों से की जा रही सड़क निर्माण की मांग के बाद 10 लाख रुपए की लागत से बनाई सीसीरोड महज 18 महीने में ही उखड़ गई। बावजूद इसके सरपंच सचिव ने इस मामले में चुप्पी साध रखी। क्षेत्र के लोगों ने घटिया निर्माण की शिकायत अब प्रशासनिक अधिकारी को लिखित आवेदन देकर की है। ग्राम पंचायत बेरछा द्वारा अजा बाग मोहल्ले से अजा श्मशान के बीच बनाई गई सीसी सड़क ने महज 18 माह में ही ग्राम पंचायत बेरछा के भ्रष्टाचार की पोल खोल दी है।

जानकारी के अनुसार वित्तीय वर्ष 2018-19 में पंचायत द्वारा अजा बाग मोहल्ले के रहवासियों की सड़क निर्माण की वर्षों पुरानी लंबित मांग के बाद 9 लाख 30 हजार 750 रुपए की लागत से सीसी सड़क का निर्माण 26 सितंबर 2018 को पूर्ण किया गया था। सड़क निर्माण में अधिकारियों की मिलीभगत और भ्रष्टाचार के चलते उक्त सड़क महज 18 महीने बाद ही उखड़ने लगी है जिससे स्थानीय रहवासियों को समस्या का सामना करना पड़ रहा है। मनरेगा और 14 वित्त आयोग की लगभग 10 लाख की राशि ग्राम पंचायत बेरछा द्वारा शासन के दिशा निर्देशों का पालन नहीं किया तथा इस सीसी सड़क के साथ बनने वाली नाली सहित पांच फीट का भराव भी नहीं किए जाने के कारण सड़क ने दम तोड़ दिया है।

बाग मोहल्ला रहवासी रूप किशोर, संतोष, मुकेश,विजय व रमेश ने शिकायती आवेदन स्थानीय टप्पा कार्यालय में शुक्रवार को अतिरिक्त तहसीलदार बृजेश मालवीय को आवेदन दिया। इसमें श्मशान सीसी रोड का गुणवत्तापूर्ण निर्माण की जांच करने तथा अधूरा निर्माण पूर्ण कराने की मांग की है।ज्ञात रहे कि ग्राम पंचायत बेरछा द्वारा पूर्व में भी एक सड़क का लापरवाही पूर्वक सीसी सड़क का निर्माण किया गया था। जिसको लेकर हुई शिकायतों के बाद उक्त सड़क का निर्माण पुनः करने को मजबूर होना पड़ा था।

ग्राम पंचायत द्वारा निर्मित सड़क की तकनीकी स्वीकृति के अनुसार उक्त सड़क के दोनों ओर नाली का निर्माण तथा 5-5 फीट शोल्डर का भराव भी किया जाना था। परंतु ग्राम पंचायत के जिम्मेदारों ने शासन के नियमों को ताक पर रख महज कांक्रीट की सड़क बना दी। उक्त सड़क निर्माण के दौरान गुणवत्ताहीन मटेरियल,गिट्टी के साथ बड़े-बड़े बोल्डर पत्थर से भराव कर उसी पर सीसी सड़क का निर्माण किया। जो उन बोल्डर पत्थर के खिसकने से सीसी सड़क में गड्ढे दिखाई देने लगे है। लगभग 10 लाख की लागत से बनी सीसी सड़क के बीचों-बीच दरारें पड़ने लगी है।

जांच कराई जाएगी
अजा बाहुल्य बस्ती बेरछा के रहवासियों ने गुणवत्ताहीन अधूरे सीसी सड़क निर्माण के संबंध में शिकायती आवेदन दिया है। जिसकी जांच कराई जाएगी।
-ब्रजेश मालवीय, नायब तहसीलदार बेरछा


खबरें और भी हैं...