महिदपुर के तीर्थधाम में हुआ आयोजन:प्रतिष्ठा की नवम वर्षगांठ व 45 वें दीक्षा दिवस पर स्नात्र महोत्सव हुआ

महिदपुर9 दिन पहले

नगर में श्री शत्रुंजय आदिनाथ तीर्थधाम (किला मंदिर) में 108 आदिनाथ भगवान की प्रतिष्ठा की नवम वर्षगांठ एवं तीर्थधाम के प्रेरक मार्गदर्शक, प्रवचन प्रभावक श्री सागरचन्द्रसागर सूरीश्वरजी के 45 वें दीक्षा दिवस के पावन अवसर पर धार्मिक आयोजन हुए।

श्री शत्रुंजय आदिनाथ तीर्थधाम में प्रभुजी का स्नात्र महोत्सव श्री शत्रुंजय आदिनाथ तीर्थधाम ट्रस्ट मंडल द्वारा आयोजित किया गया। स्नात्र पूजा आदिनाथ स्नात्र मंडल के द्वारा पढाई गई। तीर्थधाम के ट्रस्टी महेश सुमन ने बताया कि श्री शत्रुंजय आदिनाथ तीर्थधाम, महिदपुर में संप्रतिकालीन, 2300 वर्ष प्राचीन आदिनाथ दादा की छत्रछाया में आबु-अष्टापद-गिरनार-शिखरजी-आगम मंदिर-आदिनाथ दादा पारणा स्मारक- समवसरण मंदिर-नवकार नवगृह मंदिर-सूरिमंत्र पंचप्रस्थान मंदिर-अनेक संकेत देने वाले चमत्कारी क्षेत्रपाल महाराज-घेटी चरण पादुका सहित श्री शत्रुंजय तीर्थ रचना के साथ 108 आदिनाथ भगवान विराजित हैं।

खबरें और भी हैं...