स्टूडेंट्स परेशान:विद्यार्थियों के खाते में आधी भी नहीं आई छात्रवृत्ति, ऑनलाइन आवेदन में दिखाई 5 हजार रुपए, मिली 2000

नागदाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आरक्षित वर्ग के कॉलेज विद्यार्थियों को पढ़ाई में सुविधा के लिए राज्य शासन से छात्रवृत्ति दी जाती है, ताकि वह अपनी उच्च शिक्षा बिना किसी परेशानी के पूरी कर सके। इसके लिए बाकायदा प्रवेश फार्म के साथ छात्रवृत्ति के आवेदन भी जमा हुए थे। अब कॉलेज विद्यार्थियों के खाते में छात्रवृत्ति की राशि आना शुरू हो चुकी है, लेकिन यह राशि निर्धारित छात्रवृत्ति से आधी भी नहीं आ रही है।

ऑनलाइन आवेदन जमा करने के दौरान विद्यार्थियों को 5 हजार रुपए की राशि छात्रवृत्ति के रुप में मिलना दर्शाया गया था, अब खाते में मात्र 2 हजार रुपए की राशि पहुंच रही है। इसी प्रकार 9 हजार रुपए की छात्रवृत्ति में 3737 रुपए ही विद्यार्थियों के खाते में पहुंच रहे हैं।

जिससे विद्यार्थी असमंजस में है। पूर्व जनभागीदारी अध्यक्ष नरेंद्र गुर्जर ने बताया कि, विद्यार्थियों के खाते में छात्रवृत्ति की कम राशि आने की शिकायत मिली है। उच्च शिक्षा विभाग ने गत दिनों एक पत्र कॉलेज को जारी किया गया था, जिसमें शिक्षण शुल्क को अपडेट करने को कहा गया था, ताकि विद्यार्थियों को योजना के तहत छात्रवृत्ति मिल सके।

कॉलेज प्रबंधक के मुताबिक उन्होंने शुल्क अपडेशन का कार्य कर दिया था। बावजूद विद्यार्थियों के खाते में राशि कम आई है। गुर्जर ने बताया कि, हाल ही में उच्च शिक्षा विभाग ने एक पत्र जारी किया है। जिसमें उन्होंने कॉलेज प्रबंधकों को ऐसे विद्यार्थियों की सूची बनाकर पोर्टल पर डालने को कहा है कि, जिसमें विद्यार्थियों को कम छात्रवृत्ति मिली है। उसके बाद भी अभी तक विद्यार्थियों को सूचित तक नहीं किया गया है।

खबरें और भी हैं...