पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • Nagda
  • Kalbai Was Changing Her Name By Telling Her Guest, The Police Took Custody After Seeing The Anal Name On Her Hand

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नागदा:खुद काे मेहमान बता नाम बदलकर बरगला रही थी कलाबाई, पुलिस ने हाथ पर गुदा नाम देखकर हिरासत में लिया, पूछताछ में कबूला जुर्म

नागदा4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
एसपी ने किया निरीक्षण, एफएसएल ने जुटाए साक्ष्य - Dainik Bhaskar
एसपी ने किया निरीक्षण, एफएसएल ने जुटाए साक्ष्य
  • विद्यानगर में महिला पर हुए प्राणघातक हमले का मामला: चार में से दाे आराेपियाें काे पुलिस ने पकड़ा, कोर्ट ने जेल भेजा

विद्यानगर क्षेत्र में महिला पर प्राणघातक हमला करने वाले चार में से दाे आराेपियाें काे पुलिस ने बुधवार काे पकड़ लिया। पुलिस ने महिला की माैसी सास कलाबाई काे मेहतवास स्थित उसके निवास और ससुर सीताराम काे सांवेर के पास स्थित चंद्रावतीगंज से पकड़ा है। दाेनाें आराेपी टावर लाेकेशन से पकड़ाए हैं। आराेपी पति राजेश साेलंकी व सास गेंदाबाई अब भी फरार है। घटना के बाद माैसी सास कलाबाई अपने घर पर थी।

वह खुद काे मेहमान बताकर पुलिस काे बरगलाने की काेशिश कर रही थी लेकिन पुलिस ने हाथ पर गुदे नाम से कलाबाई काे पहचान लिया। दूसरी तरफ हमले के बाद ससुर सीताराम बाइक से सांवेर के पास चंद्रावतीगंज अपनी बहन के यहां चला गया था। फिलहाल कलाबाई व सीताराम से बाकी आराेपियाें के बारे में पता किया जा रहा है। बुधवार को सीताराम व कलाबाई को न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया।

बुधवार काे मामले का खुलासा कर एएसपी आकाश भूरिया ने बताया घटना की गंभीरता काे देखते हुए आराेपियाें की तत्काल गिरफ्तारी जरूरी थी। इसके लिए सीएसपी मनाेज रत्नाकर के नेतृत्व में 12 लाेगाें की टीम गठित की गई थी, जिसमें मंडी टीआई श्यामचंद्र शर्मा टावर लाेकेशन और बिरलाग्राम थाना प्रभारी हेमंतसिंह जादाैन मुखबिराें से आराेपियाें का पता लगा रहे थे। मंडी टीआई शर्मा काे टावर लाेकेशन से कलाबाई के मेहतवास व सीताराम के चंद्रावतीगंज हाेने की जानकारी मिली।

इस पर एक टीम काे मेहतवास व दूसरी टीम काे चंद्रावतीगंज रवाना किया। इस तरह टीम ने याेजनाबद्ध तरीके से दाेनाें आराेपियाें काे पकड़ा। गिरफ्त में आए दोनों आरोपियों से प्रारंभिक पूछताछ में यह जानकारी मिली है कि अवैध संबंध इस हमले की मुख्य वजह बना। पुलिस की टीम में एसआई एमएल रावत, विक्रमसिंह उज्जैन, आरक्षक सुरेश डांगी, जितेंद्र सेंगर, प्रकाश यादव, संजय सिंह राणा, राकेश मालवीय, पुष्पेंद्र सिंह, पुष्पराज शामिल थे।

एसपी ने किया निरीक्षण, एफएसएल ने जुटाए साक्ष्य
घटना काे लेकर बुधवार सुबह 10 बजे एसपी सत्येंद्र शुक्ल शहर पहुंचे। उन्हाेंने घटनास्थल का मुआयना करने के बाद अधिकारियाें काे त्वरित कार्रवाई काे कहा। एसपी शुक्ल और कलेक्टर आशीष सिंह ने इंदाैर एमवाय चिकित्सकाें से चर्चा कर महिला के इलाज में काेई कमी नहीं रखने के निर्देश दिए। महिला की सुरक्षा के लिए एक एसआई और आरक्षक काे भी अस्पताल में तैनात किया है। एफएसएल के अरविंद नायक ने भी घटनास्थल पहुंच कर सूक्ष्मता से पड़ताल की और साक्ष्य जुटाए।

कलाबाई बोली- मेरा नाम अवंतिकाबाई, मैं मेहमान हूं
पुलिस की टीम जब कलाबाई काे पकड़ने मेहतवास स्थित उसके निवास पर गई ताे वहां कुछ महिलाएं सहित बच्चे मिले। सर्चिंग के दाैरान एक संदिग्ध महिला मिली। पुलिस ने महिला से नाम पूछा ताे उसने अपना नाम अवंतिकाबाई बताया और कहा कि वह तो यहां मेहमान है। टीम ने महिला के हाथ पर गुदा नाम कलाबाई पढ़ लिया। पुलिस महिला काे हिरासत में लेकर थाने पहुंची। यहां उससे जब पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की ताे उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया।

सीताराम ने बहन काे घटना के बारे में कुछ नहीं बताया
महिला पर प्राणघातक हमला करने के बाद ससुर सीताराम बाइक से चंद्रावतीगंज निकल गया था। खबर थी उसके साथ उसका बेटा भी था। मगर पुलिस टीम जब माैके पर पहुंची ताे उन्हें वहां सीताराम का बेटा राजेश नहीं मिला। सीताराम ने अपनी बहन काे घटना की बात नहीं बताई थी। पुलिस ने सीताराम काे गिरफ्तार करने के साथ उसकी बाइक काे भी जब्त किया है। पुलिस ने बताया आराेपियाें से पति राजेश व सास गेंदाबाई के बारे में पता किया जा रहा है।

रिकाॅल: चरित्र शंका में किया था प्राणघातक हमला
चरित्र शंका में मंगलवार सुबह 35 वर्षीय महिला पर उसके पति राजेश साेलंकी, ससुर सीताराम, सास गेंदाबाई, माैसी सास कलाबाई ने प्राणघातक हमला किया था। आराेपियाें ने धारदार हथियार से महिला की जीभ, गाल व स्तन काट दिए थे। आरोपी महिला को घसीटते हुए बाहर तक ले आए थे। गंभीर घायल को मरा हुआ समझकर उसे बाहर ही छोड़कर फरार हो गए थे।

आरोपियों के फरार होने के बाद भी लगभग 10 मिनट तक घायल महिला तड़पती रही लेकिन किसी ने भी उसके पास जाने तक की हिम्मत नहीं दिखाई। इस घटना से पूरे नगर में सनसनी मच गई थी। मामले में पुलिस ने धारा 307 में प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू की थी। फिलहाल जांच जारी है। गंभीर हालत में महिला काे उज्जैन रैफर किया था लेकिन वहां से भी इंदाैर भेज दिया था। गंभीर घायल महिला की स्थिति अभी भी स्थिर बनी हुई है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser