ग्रीन जोन बना नागदा / शहर में कोरोना संक्रमण का एक भी मरीज नहीं

Not a single patient of corona infection in the city
X
Not a single patient of corona infection in the city

  • 21 दिन बाद चंबल सागर कॉलोनी को प्रशासन ने किया क्वारेंटाइन मुक्त, फूल बरसाकर किया काेरोना वॉरियर्स का सम्मान

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:06 AM IST

नागदा. शहर कोरोना मुक्त हो चुका है, लेकिन लॉकडाउन, धारा 144 और कर्फ्यू जारी रहेगा। संक्रमण से बचे रहना है तो प्रशासनिक नियमों का पालन करें। शहर अब ग्रीन जोन में तब्दील हो चुका है।
यह बात शनिवार शाम को तहसीलदार विनोद शर्मा ने कंटेनमेंट एरिया चंबल सागर कॉलोनी को खोलने के दौरान कही। दरअसल चंबल सागर कॉलोनी निवासी एक किराना व्यापारी की 29 अप्रैल को उज्जैन में उपचार के दौरान माैत हो गई थी। मृतक की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजीटिव आई थी। इसके बाद 2 मई को प्रशासन ने क्षेत्र को 21 दिनों के लिए कंटेनमेंट घोषित कर दिया था। मृतक के परिजन और क्षेत्र के करीब एक दर्जन लोगों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे। जिनकी रिपोर्ट निगेटिव आई।
तालियां बजाकर अभिवादन
मौके पर पहुंचे सीएमओ सतीश मटसेनिया, नायब तहसीलदार अन्नु जैन, नोडल अधिकारी बसंत रघुवंशी पहुंचे। कंटेनमेंट क्षेत्र को खोलते ही क्षेत्र के लोगों ने अफसरों के दल पर पुष्प वर्षा की। साथ ही तालियां बजाकर अभिवादन किया। लोगों के दरवाजों पर लगाए गए तालों को नपा कर्मचारियों ने एक-एक कर खोला। इसके बाद फॉगिंग स्प्रे और सैनिटाइजर का क्षेत्र में छिड़काव किया गया।
सामने वाले को मास्क पहनाना जिम्मेदारी
शहर कोरोना मुक्त हो चुका है। चंबल सागर के रहवासियों ने प्रशासनिक अफसरों का बखूबी सहयोग किया है। आपके सामने पहुंचने वाला हर व्यक्ति काे मास्क पहनना जरूरी है। यह जिम्मेदारी आपकी है कि उसे मास्क पहनकर के लिए किस प्रकार प्रेरित किया जाए।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना