पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • Nagda
  • There Is A Possibility Of Infertility Of The Soybean Crop, The Tehsildar Reached The Village Through Mud Filled Path On The Complaint

नागदा:साेयाबीन फसल के बांझ हाेने की संभावना, शिकायत पर कीचड़ भरे रास्ते से गांव तक पहुंचे तहसीलदार

नागदाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गांव राेहलखुर्द और रूपेटा में लगभग 1 हजार बीघा जमीन पर बाेई साेयाबीन फसल के बांझ हाेने की संभावना बनी हुई है। इसकी शिकायत किसान नेता भूपेंद्रसिंह राणावत व किसानाें द्वारा एसडीएम पुरुषाेत्तम कुमार काे की गई थी। इस पर गुरुवार काे तहसीलदार आर.के. गुहा, कृषि विभाग के एसडीओ के.एस. मालवीय सहित प्रशासनिक अमले ने माैके पर पहुंच साेयाबीन फसल की स्थिति देखी। खेतों तक पहुंचने वाले रास्ते पर कीचड़ था। उसके बाद भी तहसीलदार कीचड़भरे रास्ते से पहुंचे और फसलों की स्थिति देखी। इसमें यह सामने अाया कि साेयाबीन के पाैधे ताे बड़े हाे चुके हैं, लेकिन उसमें न ताे फूल-कण आए हैं और न ही फली आ पाई है।
आश्वासन : 5 दिन में फूल कण नहीं आते ताे मुआवजे की प्रक्रिया
तहसीलदार गुहा ने किसानाें काे 5 दिन और इंतजार करने काे कहा है। गुहा ने कहा कि अगर 5 दिन में फूल-कण नहीं बनते हैं ताे उज्जैन से वैज्ञानिकों के दल काे बुलाकर परीक्षण कराया जाएगा। उसके बाद भी उपज बांझ रहती है ताे नियमानुसार प्रक्रिया कराकर मुआवजे की कार्रवाई की जाएगी। राणावत ने बताया कि राेहलखुर्द और रूपेटा के कांकड़ की लगभग 1 हजार बीघा में फसल में फूल-कण नहीं आए हैं। किसानाें ने कर्जा कर दाेगुनी कीमत पर बीज लेकर बाेवनी की थी।

उसके बाद से बारिश नहीं हुई। किसानाें ने जैसे तैसे डाेरे चलाकर और निंदाई कर फसल काे सूखने से ताे बचा लिया, लेकिन अब उसमें फूल-कण नहीं आए हैं। इससे फसल के बांझ हाेने की पूरी संभावना है। अगर पाैधाें में फूल-कण और फलियां नहीं आती है ताे किसानाें काे खासा नुकसान हाेगा और उन्हें आर्थिक मार झेलना हाेगी। इसे लेकर ही एसडीएम कार्यालय में शिकायत कर जांच और मुआवजा देने की मांग की गई थी।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- लाभदायक समय है। किसी भी कार्य तथा मेहनत का पूरा-पूरा फल मिलेगा। फोन कॉल के माध्यम से कोई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की संभावना है। मार्केटिंग व मीडिया से संबंधित कार्यों पर ही अपना पूरा ध्यान कें...

और पढ़ें