• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • Nagda
  • There was a dispute between the two parties on the matter of the way of Shachalaya, when they reached to arrest the accused, they were killed.

गांव टकरावदा में देर रात पत्थरबाजी / शाैचालय के रास्ते की बात पर दो पक्षों में था विवाद, आरोपी को गिरफ्तार करने पहुंचे तो मारा था पत्थर

X

  • पुलिस ने दो अलग-अलग मामलों में दर्ज किया प्रकरण

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

नागदा. गांव टकरावदा में चंद्रवंशी समाज के दो परिवारों में शौचालय तक जाने के रास्ते की बात को लेकर विवाद हुआ था। आरोपी को गिरफ्तार करने पहुंची पुलिस के साथ झूमा-झटकी कर पत्थर मारे गए थे। इसमें बिरलाग्राम थाना प्रभारी आईपीएस अभिनव चौकसे घायल हो गए थे।
मामले में पुलिस ने दो अलग-अलग प्रकरण आरोपियों पर दर्ज किया है। सीएसपी मनोज रत्नाकर के मुताबिक पहले मामला में रास्ते की बात को लेकर विवाद में 3 लोगों पर प्रकरण दर्ज किया गया है। वहीं दूसरे पुलिस के कार्य में बाधा डालने का 7 लोगों पर प्रकरण दर्ज किया गया है। इसमें एक आरोपी को पुलिस ने रात में ही गिरफ्तार कर लिया था।
बद्री की शिकायत पर राजेश व भाइयों पर केस दर्ज
शाैचालय तक जाने के रास्ते की बात को लेकर बद्री के साथ राजेश व उसके भाई ने मारपीट की थी। इस पर पुलिस ने ब्रदी की शिकायत पर राजेश व उसके भाई मदन और कमल पर धारा 323, 458, 294, 506 में प्रकरण दर्ज किया है। 
शासकीय कार्य में बाधा का दर्ज हुआ प्रकरण
पुलिस के कार्य में रुकावट डालने, अधिकारी पर पत्थर फेंकने के मामले में बिरलाग्राम पुलिस ने प्रधान आरक्षक राजाराम की शिकायत पर राजेश सहित 7 लोगों पर प्रकरण दर्ज किया है। इसमें 4 महिलाएं भी शामिल हैं। पुलिस ने इन पर धारा 353, 332, 336, 147, 427 में प्रकरण दर्ज किया है।
पहले आरक्षक से की थी अभद्रता
गुरुवार रात 11.30 बजे राजेश और बद्री चंद्रवंशी में शौचालय तक रास्ते की बात को लेकर विवाद हुआ। इसमें राजेश व उसके भाइयों ने बद्री के साथ मारपीट की। पुलिस को सूचना मिलने पर वह गांव पहुंची, तब तक बद्री 108 से अस्पताल पहुंच गया था। पुलिस गांव से वापस आ गई। तभी 100 डायल पर बद्री के पिता के साथ राजेश द्वारा मारपीट करने की जानकारी आई। इस पर रात करीब 12.15 प्रधान आरक्षक राजाराम जवानों के साथ गांव पहुंचे। यहां राजेश ने प्रधान आरक्षक राजाराम से अभद्रता की। प्रधान आरक्षक राजाराम ने सूचना बिरलाग्राम थाने दी तो आईपीएस अभिनव चौकसे भी मौके पर पहुंचे। इस दौरान राजेश शराब के अधिक सेवन से बेहोश हो गया। पुलिस उसे अस्पताल ले जाने के लिए वाहन में बैठा रही थी तो महिलाओं को लगा कि उसे पकड़कर ले जा रही है। महिलाओं ने झूमा-झटकी कर पत्थर फेंके, जो आईपीएस चौकसे के सिर में लगा। वहीं पुलिस वाहन का साइड कांच भी टूट गया। हालांकि घायल होने के बाद भी आईपीएस राजेश को लेकर रात 1.30 बजे अस्पताल पहुंचे थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना