पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ujjain
  • 258 People Who Came Out Of Their Homes Were In Danger Of Life In 151 And Were Walking The Morning

ये समाज के दुश्मन:घरों से बाहर निकले 258 लोग 151 में अंदर जान खतरे में और कर रहे थे माॅर्निंग वॉक

उज्जैनएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोयला फाटक चौराहे पर कार्रवाई करतीं पुिलस की टीम। बेवजह सड़क पर घूमने वालों को पुलिस ने गिरफ्तार भी किया। - Dainik Bhaskar
कोयला फाटक चौराहे पर कार्रवाई करतीं पुिलस की टीम। बेवजह सड़क पर घूमने वालों को पुलिस ने गिरफ्तार भी किया।
  • सख्त कर्फ्यू के बाद भी बहाने लिए बाहर घूम रहे थे ये समाज के दुश्मन
  • पकड़ाए युवकों की गाड़ियां घर वाले आकर ले गए, अब तक 188 में केस दर्ज कर रहे थे

पूर्ण लॉकडाउन लगा है तो फिर इमरजेंसी सेवाओं को छोड़कर सड़कों पर कोई नहीं होना चाहिए। इसके बावजूद पूरे शहर में हर मार्ग पर रोज लोगों की भीड़ दिख रही है। इसे लेकर शुक्रवार को पुलिस-प्रशासनिक अधिकारी चौराहों पर ड्यूटी करने वाले पुलिसकर्मियों पर नाराज हुए। इसके बाद सड़कों पर और अधिक सख्ती कर दी गई। दिनभर में 258 लोगों को गिरफ्तार किया, जिनके खिलाफ पहली बार धारा 151 में भी केस दर्ज करने की कार्रवाई की गई। शहर में पूर्ण लॉकडाउन का मतलब नहीं निकल रहा। लोग इतने अधिक सड़कों पर है कि संक्रमण की चेन एक महीने से टूट ही नहीं पा रही।

पुलिस और प्रशासनिक अमले की पूरी मेहनत व्यर्थ हो रही है। इसीलिए शुक्रवार को पुलिस ने इतनी अधिक सख्ती दिखाई कि बेवजह सड़कों पर निकले लोगों को पकड़कर जेल वाहन में डाल दिया। उनके खिलाफ केस दर्ज किया गया और जुर्माना भी लगाया। उनकी गाड़ियां घर वाले आकर ले गए। एडिशनल एसपी अमरेंद्रसिंह चौहान ने बताया कि शुक्रवार शाम तक कार्रवाई जारी थी। इसमें 258 लोगों के खिलाफ महामारी एक्ट व धारा 188 के अलावा धारा 151 के तहत भी कार्रवाई की गई है। इनमें 16 लोग वे जो मॉर्निंग वॉक पर पकड़े गए।

डेयरी की आड़ में मिठाई बेच रहे थे, सील की
अंकपात मार्ग स्थित बालाजी दूध डेयरी और कृष्णा डेयरी को शुक्रवार को सील कर दिया। यहां दूध की आड़ में मिठाई बेची जा रही थी। इस वजह से दुकान पर भीड़ लगी थी। प्रशासनिक अमले ने दोनों डेयरी को सील करते हुए संचालक के खिलाफ केस दर्ज किया। इसके अलावा नानाखेड़ा मार्ग स्थित अरिहंत इलेक्ट्रिकल्स एंड सेल्स नाम से दुकान खुली हुई थी। नीलगंगा पुलिस ने इसे सील कर दुकान संचालक के खिलाफ केस दर्ज किया।
तुम जैसों के कारण घर में रहने वालों की मेहनत बेकार
एएसपी सिंह ने शुक्रवार को कई लोगों को फटकार भी लगाई। उन्होंने कहा कि तुम जैसे लोग बेवजह बाहर घूम रहे हैं। इसकी वजह से घर में रहकर जो सहयोग कर रहे हैं, उनकी मेहनत बेकार जा रही। यह संक्रमण की चेन हम तोड़ना चाहते हैं, अगर बढ़ गई तो संभालना मुश्किल हो जाएगा। एएसपी ने कहा कि मॉर्निंग वॉक वालों के खिलाफ भी कार्रवाई शुरू कर दी है। सभी घर में रहकर ही वॉक, योगा करें, बाहर तो अब सख्ती से ही निपटेंगे।

जनता कर्फ्यू में किराना सामग्री व रसोई गैस सिलेंडर की होम डिलीवरी भी केवल सुबह 8 से 11 बजे तक

जिले में जनता कर्फ्यू 17 मई की सुबह 6 बजे तक प्रभावी रहेगा। इस दौरान किराना, ग्रोसरी, ब्रेड, फल-सब्जी की एवं रसोई गैस सिलेंडर की सुबह 8 बजे से 11 बजे तक होम डिलीवरी हो सकेगी। इन्हीं तीन घंटे तक पशु आहार की दुकानें, आटा चक्कियां खुली रहेंगी। जबकि दूध की दुकानें, दूध हाॅकर्स, दूध डेयरी (केवल दूध) के व्यापारी सुबह 6 से 9 एवं शाम को 6 बजे से रात 8 बजे तक ही कारोबार कर सकेंगे। कलेक्टर आशीष सिंह ने नई व्यवस्था लागू कर दी है।

इसके तहत स्पष्ट किया है कि जिले के वे सभी शासकीय-अर्द्धशासकीय-निजी एवं जिन कार्यालयों में कोरोना संक्रमण रोकथाम से जुड़े कार्य नहीं किए जाते हैंं, वे सभी कार्यालय (आवश्यक सेवाओं जैसे- स्वास्थ्य, नगरीय निकाय, पुलिस, स्थानीय प्रशासन, लोनिवि, बिजली, संचार, बैंक आदि को छोड़कर) बंद रहेंगे। सभी प्रकार के दो पहिया, तीन पहिया एवं चार पहिया वाहन का आवागमन प्रतिबंधित रहेगा। विवाह नहीं हो सकेंगे। स्थानीय फुटकर सब्जी-फल मंडी एवं हाट बाजार बंद रहेंगे। सभी प्रकार की गतिविधियां पूर्व आदेशों की तरह ही प्रतिबंधित रहेंगी।

खबरें और भी हैं...